आईएमए ह रामदेव ल भेजिस मानहानि के नोटिस, मांगीस 1000 करोड़ के मुआवज़ा

नई दिल्ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ह योग गुरु रामदेव ल मानहानि के एक नोटिस भेजे हवय। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, एमा एलोपैथी अऊ एलोपैथिक डॉक्टर मन के ख़िलाफ़ अपमानजनक टिप्पणी के आरोप लगावत 15 दिन के अंदर माफ़ी मांगे बर केहे हवय। अइसे नई करे म एक हज़ार करोड़ रुपिया के मुआवजा के मांग करे हे
आईएमए (उत्तराखंड) के सचिव अजय खन्ना ह अपन वकील नीरज पांडे के माध्यम ले छह पन्ना के ए नोटिस भेजा हवय जेमा केहे गे हवय के योग गुरु के टिप्पणी ह एलोपैथी अऊ आईएमए ले जुड़े 2000 ले ज़्यादा डॉक्टर मन के छवि अऊ इज़्ज़त ल छवि ल नुक़सान पहुंचाय हवय।रामदेव के टिप्पणी ल आईपीसी के धारा 499 के तहत ‘आपराधिक कार्य’ बतावत नोटिस मे केहे गे हवय के एला मिले के 15 दिन के अंदर लिखित माफ़ी मांगे जाए नही ते आईएमए के प्रत्येक सदस्य ल 50 लाख रुपिया के मुआवज़ा दे जाए, जेखर कुल रकम 1000 करोड़ बनत हे।
सोशल मीडिया म रामदेव के वीडियो सर्कुलेट होय रिहीस जेमा वो ह केहे रिहीस के हाल के दिन म कोविड-19 के मुक़ाबला एलोपैथिक इलाज के सेती जादा लोगन के मऊत होय हवय।वीडियो म वो प्लाज़्मा थेरेपी के कोविड-19 के इलाज के सूची ले हटाए जाय म तंज़ कसत दिखत हवय
वीडियो म रामदेव ह कहत हवय के, “एलोपैथी एक ऐसी स्टुपिड और दिवालिया साइंस है कि पहले क्लोरोक्विन फ़ेल हुआ, फिर रेमडेसिवियर फ़ेल हुआ, फिर एंटी बायोटिक फ़ेल हुआ, फिर स्टेरॉयड फ़ेल हुआ और कल प्लाज़्मा थेरेपी भी फ़ेल हो गया.”

more recommended stories