महोबा: जिला सूचना अधिकारी की परशुराम जयंती पर विवादित टिप्पणी, ब्राह्मणों में गुस्सा, डीएम ने बनाई जांच कमेटी


महोबा. महोबा में जिला सूचना अधिकारी द्वारा भगवान परशुराम जयंती के अवसर पर सोशल मीडिया पर की गई टिप्पणी पर विवाद गहरा गया है. इस पर प्रेस क्लब ने विरोध जताया है और दर्जनों सदस्यों ने डीएम और एसपी से मुलाकात कर सूचना अधिकारी खिलाफ कार्रवाई करने और मुकदमा लिखने की मांग की है.

मंगलवार को भगवान परशुराम की जयंती के अवसर पर महोबा में तैनात जिला सूचना अधिकारी सतीश चंद्र यादव द्वारा भगवान परशुराम को लेकर सोशल मीडिया में अभद्र टिप्पणी की गई थी. जिसे लेकर पत्रकार संगठन और ब्राह्मण समाज ने रोष जताते हुए अपना विरोध दर्ज कराया था. बुधवार को प्रेस क्लब के अध्यक्ष संजय मिश्रा अपने दर्जनों पत्रकार साथियों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे और उन्होंने आस्था से खिलवाड़ करने वाले अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

डीएम एसपी से मिले संगठन, कार्रवाई की मांग
वहीं एसपी से मुलाकात कर जिलाध्यक्ष ने सूचना अधिकारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है. मामले में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक का कहना है कि प्रशासन द्वारा मामले की जांच के लिए 2 सदस्यीय टीम गठित कर दी गई है. यह टीम अगले 3 दिनों में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. इसके आधार पर अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी. वहीं डीएम ने मामले में गंभीरता दिखाते हुए सूचना विभाग के उच्चाधिकारियों को मामले से अवगत करा दिया है.

ब्राह्मण समाज ने जताई गहरी आपत्ति
महोबा में जिला सूचना अधिकारी के पद पर तैनात सतीश यादव ने ब्राह्मण समाज के आराध्य देव भगवान परशुराम पर सोशल मीडिया में अभद्र टिप्पणी की थी. जिसको लेकर ब्राह्मण समाज ने बेहद आपत्ति जाहिर की है. प्रेस क्लब के अध्यक्ष संजय मिश्रा महामंत्री अनुज शर्मा, कोषाध्यक्ष एके त्रिपाठी, संरक्षक रशीद कुरैशी, विष्णु गुप्ता, प्रकाश सक्सेना, नईम और रहमान सहित सैकड़ों प्रेस क्लब के लोगों ने एकजुट होकर डीएम एसपी के कार्यालय पहुंचकर कार्रर्वाई की मांग की.

Tags: Mahoba news, UP news



Source link

more recommended stories