बक्सर के गंगा घाट पर मिली लाशों से प्रशासन ने झाड़ा पल्ला, कहा- UP से बहकर आए शव। covid panic in Bihars Buxar town as over 40 bodies wash up on banks of ganga

स्थानीय प्रशासन का मानना है कि कोरोना संक्रमित इन लोगों की मौत के बाद दफनाने की जगह नहीं मिलने पर यूपी वालों ने इन्हें गंगा में बहा दिया. (सांकेतिक तस्वीर)


स्थानीय प्रशासन का मानना है कि कोरोना संक्रमित इन लोगों की मौत के बाद दफनाने की जगह नहीं मिलने पर यूपी वालों ने इन्हें गंगा में बहा दिया. (सांकेतिक तस्वीर)

स्थानीय प्रशासन का मानना है कि ये लाशें उत्तर प्रदेश से बहकर आई हैं और ये Corona मरीजों की हैं. प्रशासन का अनुमान है कि परिजनों को इन लाशों को दफनाने की कोई जगह नहीं मिली तो उन्होंने इन्हें गंगा में बहा दिया.

पटना. बिहार के बक्सर जिले में आज सुबह गंगा नदी में तैरती कई लाशें दिखीं. ये लाशें फूली हुई थीं और लगभग सड़ी हुई थीं. यह डरावना नजारा भारत में कोविड संकट को दिखाने के लिए काफी है. बिहार और उत्तर प्रदेश से लगे चौसा शहर की गंगा के तट पर लगभग दर्जन भर लाशें बिछी हुई थीं. सुबह जब लोगों की नींद टूटी तो उन्हें बहुत खतरनाक और डरावना दृश्य दिखा. स्थानीय प्रशासन का मानना है कि ये लाशें उत्तर प्रदेश से बहकर आई हैं और ये कोविड मरीजों की हैं. प्रशासन का अनुमान है कि परिजनों को इन लाशों को दफनाने की कोई जगह नहीं मिली तो उन्होंने इन्हें गंगा में बहा दिया. अधिकारी ने कहा – पानी में 40-45 लाशें दिखीं अधिकारी अशोक कुमार ने चौसा जिले के महादेव घाट पर कहा – पानी में तैरती हुई लगभग 40-45 लाशें दिखी थीं. अशोक कुमार के मुताबिक, ऐसा लगता है कि इन शवों को नदी में फेंक दिया गया है. सूत्रों का दावा है कि यहां सौ के आसपास लाशें हो सकती हैं. एक दूसरे अधिकारी केके उपाध्याय के मुताबिक, इन फूली हुई लाशों को देखने से ऐसा लगता है कि ये पांच से छह दिन से पानी में हो सकती हैं. हमें इसकी जांच करनी होगी कि ये उत्तर प्रदेश के किस शहर से आई हैं.

लोगों में मचा हड़कंप शहर के लोगों के बीच इन लाशों के मिलने के बाद हड़कंप की स्थिति बनी हुई है. उन्हें आशंका है कि इन लाशों और दूषित हुए नदी के पानी की वजह से संक्रमण न फैले. गांव के नरेंद्र कुमार कहते हैं कि लोगों को संक्रमण का डर है. हमें इन लाशों को दफनाना होगा. उन्होंने कहा कि एक अधिकारी आए थे, उन्होंने कहा कि इन लाशों को साफ कर दो, पांच सौ रुपये दिए जाएंगे.







Source link

more recommended stories