यूपी में भर व राजभर जाति को मिलेगी अच्छी खबर? इलाहाबाद HC ने UP सरकार को दिया यह निर्देश


प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court News) से बड़ी खबर सामने आई है. उत्तर प्रदेश में भर व राजभर जाति को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने के संबंध में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को बड़ा निर्देश दिया है. हाईकोर्ट ने निर्देश दिया है कि यूपी सरकार भर व राजभर जाति को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने के संबंध में दो माह में निर्णय ले.

हाईकोर्ट ने समाज कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव से कहा कि मामले में केंद्र सरकार के 11 अक्तूबर 2021 के प्रस्ताव के क्रम में निर्णय लें. जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा और जस्टिस दिनेश पाठक की खंडपीठ ने जागो राजभर जागो समिति की याचिका पर यह आदेश दिया. उत्तर प्रदेश के पूर्वी जिलों में लाखों की संख्या में भर व राजभरों की आबादी रहती है. इन्हें आज की तारीख में अन्य पिछड़ा वर्ग की श्रेणी में प्रदेश में रखा गया है,

बता दें कि इसी का याचिका में विरोध किया गया है. भर व राजभरों की बड़ी आबादी पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों मऊ, गाजीपुर, आजमगढ़, बलिया, मिर्जापुर, सोनभद्र, चंदौली, जौनपुर,  देवरिया, गोरखपुर में ज्यादातर पाईं ज़ाती हैं. हालांकि इनकी आबादी प्रदेश के लगभग सभी जिलों में है.

आपके शहर से (इलाहाबाद)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: Allahabad news, Prayagraj News, Uttar pradesh news



Source link

more recommended stories