यूपी के चार गांवों में अवैध कब्जों पर चला बुलडोज़र, 7 करोड़ की सरकारी जमीन कराई गई खाली

UP Board Exam 2022: परीक्षा केंद्र से 1 किमी तक रहेगी सख्ती, छात्रों पर ऐसे रखी जाएगी निगरानी


लखनऊ. उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार 25 मार्च को शपथ ग्रहण करने वाली है. हालांकि उससे पहले ही यूपी में अवैध कब्जों पर डंडा चलना शुरू हो गया है. लखनऊ के एसडीएम मोहनलालगंज ने अभियान चलाकर चार गांवों में सरकारी जमीन को अवैध कब्जे से मुक्त करवाया. तहसील प्रशासन के मुताबिक खाली कराई गई इस जमीन की कीमत सात करोड़ रुपये के करीब है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, प्लाटिंग कंपनी ने सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा कर उस पर निर्माण करवा दिया था. वहीं एक गांव में सरकारी जमीन पर कब्जा करके उस पर खेती की जा रही थी.

ये भी पढ़ें- यूपी के मदरसों में लगातार घट रही मुस्लिम बच्चों की दिलचस्पी, छह साल में 80% घट गई संख्या, जानें वजह

ऐसे में एसडीएम शुभी सिंह ने सोमवार को विशेष अभियान चलाया और गोसाईगंज के सलेमपुर में प्लाटिंग कंपनी के कब्जे से लगभग पांच बीघे जमीन खाली करवाई. इसके अलावा सिठौली कला में कुछ लोग के कब्जे से एक बीघा से अधिक जमीन को खाली करवाया.

यूपी की हर बड़ी खबर एक क्लिक में यहां पढ़ें…

मोहारीकला में तो प्लाटिंग कंपनी ने सरकारी जमीनों पर कब्जा करके उस पर ऑफिस भी बना लिया था, जिसे प्रशासन ने ढहा दिया था. वहीं गौरा में भी सरकारी जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा कर रखा था, जिसे खाली करवा दिया गया.

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: Bulldozer Baba, Lucknow news, UP news



Source link

more recommended stories