Warning: mysqli_query(): (HY000/1021): Disk full (/tmp/#sql-temptable-433-ee15-3f749.MAI); waiting for someone to free some space... (errno: 28 "No space left on device") in /home/moradabadpages.com/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 2162

Warning: mysqli_query(): (HY000/1021): Disk full (/tmp/#sql-temptable-433-ee15-3f74a.MAI); waiting for someone to free some space... (errno: 28 "No space left on device") in /home/moradabadpages.com/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 2162

Warning: mysqli_query(): (HY000/1021): Disk full (/tmp/#sql-temptable-433-ee15-3f74b.MAI); waiting for someone to free some space... (errno: 28 "No space left on device") in /home/moradabadpages.com/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 2162

Warning: mysqli_query(): (HY000/1021): Disk full (/tmp/#sql-temptable-433-ee15-3f74c.MAI); waiting for someone to free some space... (errno: 28 "No space left on device") in /home/moradabadpages.com/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 2162
Vi यूजर्स को लग सकता है झटका, महंगे हो सकते है प्रीपेड प्लान, जानिये वजह - Moradabad News , Moradabad Business

Vi यूजर्स को लग सकता है झटका, महंगे हो सकते है प्रीपेड प्लान, जानिये वजह

टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया (Vi) के यूजर्स के लिए बुरी खबर है। घाटे में चल रही यह कंपनी इस साल एक बार फिर से अपने प्लान्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर सकती है।
पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार कंपनी के एक टॉप-लेवल अधिकारी ने कहा कि इस साल टैरिफ को दोबारा महंगा किया जा सकता है, लेकिन यह पिछले साल नवंबर में किए गए टैरिफ हाइक और मार्केट रिएक्शन पर निर्भर करेगा।
वोडाफोन-आइडिया के MD और CEO रविंदर टक्कर का कहना है कि लगभग एक महीने की सर्विस वैलिडिटी देने वाले सबसे सस्ते प्लान की कीमत कंपनी ने 99 रुपये तय की है, जो 4G सेवाओं को यूज करने वाले यूजर्स के हिसाब से ज्यादा महंगा नहीं है। टक्कर ने आगे यह भी कहा कि इस साल एक बार फिर से प्लान्स को महंगा किया जा सकता है।

कंपनी को हो रहा सब्सक्राइबर लॉस
सब्सक्राइबर बेस के मामले में वोडाफोन-आइडिया एयरटेल और जियो से काफी पीछे है। प्लान्स के महंगे होने के बाद वोडाफोन-आइडिया का सब्सक्राइबर बेस एक साल में 26.98 करोड़ के घटकर 24.72 करोड़ पर आ गया है।
टैरिफ महंगे होने के बावजूद भी कंपनी के ARPU यानी प्रति यूजर औसत रेवेन्यू में 5 प्रतिशत की कमी आई है और यह 115 रुपये हो गया है, जो साल 2020-21 की इसी तिमाही में 121 रुपये हुआ करता था।
कंपनी को बिजनस में लगातार घाटा
बड़े घाटे में चल रही वोडाफोन-आइडिया की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही। पिछले हफ्ते कंपनी ने बताया कि दिसंबर 2021 में खत्म हुई तीसरी तिमाही में कंपनी का कुल घाटा बढ़कर 7,230.9 करोड़ रुपये हो चुका था, जो एक साल पहले की इसी तिमाही में 4,532.1 करोड़ था।