वाट्सएप पर लगाई मेरठ डीएम की डीपी और शुरू कर दी अफसरों से ठगी, जानें पूरा मामला


मेरठ. साइबर क्राइम करने वालों के हौसले कितने बुलंद है इसका उदाहरण मेरठ में देखने को मिला है. यहां जिलाधिकारी के नाम पर भी फ्रॉड करने की कोशिश की गई है. सूचना विभाग की तरफ से एक नंबर जारी किया गया है, जिसमें बताया गया है कि उस नंबर से संचालित व्हाट्सएप पर जिलाधिकारी का फोटो लगाया गया और फिर अधिकारियों से पैसे और गिफ्ट की मांग की गई.

डीएम का फोटो लगाकर ठगी किए जाने को लेकर सूचना विभाग की तरफ से जानकारी साघ की गई है. विभाग की ओर से नंबर जारी कर कहा गया कि व्हाट्सएप पर जिलाधिकारी का फोटो लगाकर एक नंबर से कई अधिकारियों से पैसे व गिफ्ट कार्ड आदि की डिमांड की गई है. इस मोबाइल नंबर एवं इस पर संचालित व्हाट्सएप का जिलाधिकारी से कोई भी संबंध नहीं है. इस प्रकार अन्य किसी नंबर से जिलाधिकारी के नाम से संपर्क कर पैसे की मांग की जाती है तो तत्काल सूचित करें.

डीएम ने लोगों को दी ठगी से बचने की सलाह
मेरठ के जिलाधिकारी दीपक मीणा ने इस मामले पर कहा कि पहले भी कईयों के साथ ऐसा हुआ है. इस बार विडंबना है कि उनके साथ हो गया है. उन्होंने कहा कि पुलिस को इस बावत सूचना दी गई है. जिलाधिकारी दीपक मीणा ने कहा कि साइबर क्राइम करने वाले पकड़े जा रहे हैं. डीएम ने लोगों से अपील की है कि ऐसे लोगों के चक्कर में न आएं. तत्काल रिपोर्ट करें, ताकि कार्रवाई हो सके. जिलाधिकारी ने कहा कि फेक मैसेज फेक चीजें पहले भी लोगों के साथ हुई है. पुलिस को इस बावत सूचना दी गई है. उन्होंने कहा कि साइबर क्राइम करने वाले पकड़े भी जा रहे हैं.

Tags: Cyber ​​Crime, Meerut news, UP news



Source link

more recommended stories