UP Weather: उत्तर प्रदेश में बदला मौसम का मिजाज, अब कब-कहां होगी बारिश, IMD ने बताया अपडेट


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बुधवार को मानसून की बारिश ने लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत दी. राजधानी लखनऊ, गोरखपुर, कानपुर समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हुई मूसलाधार बारिश से पहली बार झमाझम बारिश का एहसास हुआ. 20 जुलाई को हुई बारिश ने जहां लोगों को गर्मी से राहत दी, वहीं किसानों के चेहरे भी खिल गए. यूपी के पश्चिमी हिस्सों में पिछले कुछ दिनों में हल्की बारिश देखने को मिली थी, मगर पूर्वी क्षेत्र में ऐसी बारिश नहीं हुई थी. लेकिन बुधवार को जमकर हुई बारिश ने पूर्वी यूपी समेत राज्य के अधिकतर इलाकों को तरबतर कर दिया.

यूपी में मूसलाधार बारिश होने से भीषण गर्मी का सामना कर रहे लोगों ने राहत की सांस ली. बारिश होने से एक ओर जहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई, वहीं किसानों ने भी राहत की सांस ली. बारिश न होने से फसलों को नुकसान हो रहा था, मगर बरसात होने से अब फसल को भी फायदा होगा. पिछले कुछ सप्‍ताह से लगातार तेज धूप निकलने की वजह से लोगों को उमस भरी गर्मी का सामना करना पड़ रहा था.

यह भी पढ़ें: यूपी में बारिश का इंतजार खत्म; लखनऊ-कानपुर समेत यहां झमाझम बरसे बादल, मौसम सुहाना

मौसम विभाग की मानें तो पश्चिमी यूपी के साथ-साथ पूर्वी यूपी के इलाकों में आज और कल भी बारिश की संभावना है. बताया जा रहा है कि यूपी के पूर्वी भागों की तुलना में पश्चिमी भागों में यह बारिश अधिक होगी. क्योंकि मॉनसून ट्रफ पहले ही ट्रांसफर हो चुका है और अब अपनी सामान्य स्थिति से ऊपर है. इस प्रकार उत्तर प्रदेश में बारिश जारी रहेगी. हिमालय के साथ-साथ एक पश्चिमी विक्षोभ भी आगे बढ़ रहा है, जिससे अभी और बारिश होगी.

यूपी के अलग-अलग इलाकों खासकर पूर्वी उत्तर प्रदेश में सुबह से ही बारिश शुरू हो गई जो रात तक सिलसिला जारी रहा. मौसम विभाग की मानें तो अगले पांच-छह दिन अच्छी बारिश होगी. आज यानी गुरुवार को भी यूपी के अधिकतर इलाकों में बारिश होगी. पूर्वी और पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भारी वर्षा हो सकती है. बुधवार को हुई बारिश राहत के साथ-साथ आफत भी लेकर आई थी. यूपी में वज्रपात की घटना में 14 लोगों की मौत भी हुई है.

उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त कार्यालय से मिली सूचना के मुताबिक, राज्य में बिजली गिरने की घटनाओं में कुल 14 लोगों की मृत्यु हुई है. इसमें कहा गया है कि इनमें बांदा में सबसे ज्यादा चार लोगों की मौत हुई है. इसमें कहा गया है कि इसके अलावा फतेहपुर में दो तथा बलरामपुर, चंदौली, बुलंदशहर, रायबरेली, अमेठी, कौशांबी, सुल्तानपुर और चित्रकूट जिलों में वज्रपात से एक-एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है. . मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मृतकों के परिजन को चार-चार लाख रुपये की सहायता की घोषणा की है.

Tags: IMD alert, UP Weather, Uttar pradesh news



Source link