UP पुलिस में भ्रष्टाचार के खिलाफ एक्शन, 3 दिन में 3 सिपाहियों पर मुकदमा दर्ज ,सभी फरार


हाइलाइट्स

धमकी देकर रकम वसूलने वाले सिपाही पर मुकदमा दर्ज
पुलिस अपने ही भ्रष्ट सिपाही की तलाश में जुटी है

मेरठ. योगी सरकार 2.0 में पुलिस में भ्रष्टाचार के मामले पर एक बार फिर बड़ी कार्रवाई हुई है. मेरठ में प्रॉपर्टी डीलर को झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर रकम वसूलने वाले सिपाही पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. आरोपी सिपाही सुमित गुर्जर फरार हो गया है. जिसकी पुलिस तलाश कर रही है. अहम बात यह है कि मेरठ में 3 दिन में यह दूसरा मामला है, जब भ्रष्टाचारी सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है और दोनों ही सिपाही फरार हैं.

यह सनसनीखेज मामला मेरठ के थाना लिसाड़ी के क्षेत्र का है, जहां लिसाड़ी गेट के अलीबाग में रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर साजिद मलिक के घर 6 सितंबर को सिपाही सुमित गुर्जर पहुंचा. जहां पर उसे उसके घर में ही सिपाही ने झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी. प्रॉपर्टी डीलर ने सिपाही से मन मनौव्वल भी किया.साथ ही कहा कि अब तक उसका कोई भी अपराधिक इतिहास भी नहीं है तो ऐसे में कैसे उस पर झूठा मुकदमा होगा. इस घटनाक्रम के बाद 9 सितंबर को सिपाही अपने एक साथी के साथ फिर से प्रॉपर्टी डीलर के घर पहुंचा, जहां ₹100000 की डिमांड की. पुलिसकर्मियों के दवाब में प्रॉपर्टी डीलर ने रकम भी दे दी. लेकिन घर पर लगे सीसीटीवी फुटेज में आरोपियों की वीडियो कैद हो गई.

अपने ही सिपाहियों की तलाश में जुटी पुलिस
इस पूरे मामले की शिकायत स्थानीय विधायक ने एसएसपी रोहित सजवान से की. जिसके बाद एसएसपी मेरठ एक्शन मोड में आ गए. उन्होंने आरोपी सिपाही समेत दो लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया. मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट में ही आरोपी सिपाही सुमित गुर्जर और उसके साथी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. जिसके बाद उसके गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं. लेकिन आरोपी सिपाही का मोबाइल स्विच ऑफ है और वह मौके से फरार हो गया. फिलहाल पुलिस अपने ही भ्रष्ट सिपाही की तलाश में जुटी है. हाल ही में मेरठ के सदर बाजार थाना क्षेत्र में भी सोतीगंज में वसूली के मामले में एक सिपाही पर मुकदमा दर्ज हुआ है. जिसके बाद आरोपी सिपाही भी फरार है. योगी सरकार 2.0 में पुलिस में फैले भ्रष्टाचार पर अब एक्शन सामने आ रहे हैं.

Tags: Meerut news, UP latest news, UP police



Source link

more recommended stories