UP निकाय चुनाव से पहले आजम खान और शिवपाल यादव की दिल्ली में सीक्रेट मीटिंग! गरमाई सियासत


हाइलाइट्स

आजम खान और प्रसपा नेता शिवपाल यादव का दिल्ली दौरा गोपनीय रहा
दोनों नेताओं में लंबी मुलाकात में क्या बातें हुईं, इस पर भी खामोशी साधे हुए हैं

नई दिल्ली/लखनऊ. यूपी में आगामी निकाय चुनाव को लेकर प्रदेश की सियासत एक बार फिर गर्म हो गई है. राज्य निर्वाचन आयोग नवंबर-दिसंबर में चुनाव करवाने की तैयारियों में जुटा है. इस बीच समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से विधायक आज़म खान व प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (प्रसपा) के अध्यक्ष शिवपाल यादव के बीच दिल्ली में हुई सीक्रेट मीटिंग से हलचल तेज हो गई है. हालांकि, प्रसपा की तरफ से ऐसी किसी भी मुलाकात से इनकार किया गया है.

जानकारी के मुताबिक प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव और सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान रविवार रात को यूपी भवन पहुंचे. शिवपाल यादव जहां पहली मंजिल पर ठहरे,  वहीं आजम खान ने दूसरे तल पर कमरा बुक कराया. इस दौरान आजम के बेटे अब्दुल्ला आजम भी आए हुए थे. मंगलवार सुबह शिवपाल यादव जहां दिल्ली से रवाना हो गए. वहीं आजम खान और उऩका विधायक बेटा अब्दुल्ला आजम अभी दिल्ली में ही डेरा डाले हुए हैं. ऐसे में शिवपाल और आजम की रविवार रात मुलाकात की चर्चा जोरों पर है.

गोपनीय दौरे में लंबी मुलाकात
सपा नेता आजम खान और प्रसपा नेता शिवपाल यादव का दिल्ली दौरा गोपनीय रहा. इस दौरान दोनों नेताओं ने मीडिया से भी दूरी बनाए रखे. साथ ही रविवार रात हुई लंबी मुलाकात में क्या सियासी बातें हुईं, इस पर भी दोनों खामोशी साधे हुए हैं. उधर, दोनों पार्टी के नेता इसे व्यक्तिगत मुलाकात करार दे रहे हैं. वहीं सियासी रणनीतिकारों की मानें यूपी में होने वाले नगर निकाय चुनाव औरआगामी 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले यह एक बड़ी आहट का संकेत है.

आजम के बहाने अखिलेश पर निशाना साधते शिवपाल
प्रसपा नेता शिवपाल यादव अक्सर आजम खान के बहाने सीधे अखिलेश यादव पर निशाना साधते रहे हैं. वह आजम खान के खिलाफ अत्याचार होने का हवाला देकर अखिलेश और सपा की नीतियों पर भी सवाल खड़ा चुके हैं. अप्रैल में सीतापुर जेल में आजम से मिलने गए शिवपाल ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा था. पार्टी में मुस्लिम नेताओं की उपेक्षा का भी आरोप लगाया था.

Tags: Azam Khan, Shivpal Yadav, UP politics



Source link

more recommended stories