UP News: बिजली विभाग के लाइनमैन की पुलिस कस्टडी में मौत, परजनों ने लगाया थर्ड डिग्री देने का आरोप


हाइलाइट्स

झोलाछाप डॉक्टर की हत्या के मामले में पुलिस लेकर आई थी थाने
एसपी आकाश तोमर ने जांच के बाद कार्रवाई का दिया आश्वासन

गोंडा. उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के नवाबगंज थाने में उस वक्त हंगामा खड़ा हो गया जब पुलिस कस्टडी में एक युवक की मौत हो गई. मृतक बिजली विभाग में संविदाकर्मी के तौर पर तैनात था और पुलिस उसे हत्या के एक मामले में पूछताछ के लिए लाई थी. युवक देव नारायण यादव की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. मृतक के पिता राम अचल यादव ने कहा कि बेटे की मौत थर्ड डिग्री देने से हुई.

मौके पर पहुंचे एसपी आकाश तोमर ने युवक के शव का पंचनामा कराकर पोस्टमॉर्टम और तहरीर के आधार पर कार्रवाई का आश्वासन दिया है. वहीं समाजवादी पार्टी नेता ने भी पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस घटना की जांच होनी चाहिए और दोषियों के ऊपर कार्रवाई होनी चाहिए. दरअसल, बीते 8 सितंबर को नवाबगंज थाना क्षेत्र के जैतपुर माझा गांव में झोलाछाप डॉक्टर राजेश चौहान की गला रेत कर हत्या हो गई थी और इसी मामले में पुलिस खुलासे के लिए संदिग्धों से पूछताछ कर रही थी. पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर जांच में जुटी हुई थी. इसी क्रम में माझा राठ गांव के देव नारायण यादव उर्फ देवा को भी पुलिस पूछताछ के लिए लाई थी.

पूछताछ के दौरान बिगड़ी थी तबीयत
जानकारी के मुताबिक अपने पिता के साथ थाने पर पहुंचे देवा से पुलिस पूछताछ कर रही थी कि इसी बीच उसकी हालत बिगड़ गई. आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने देवा को मृत घोषित कर दिया. मौत की सूचना पाकर परिजन और ग्रामीण उग्र हो गए और थर्ड डिग्री से मौत का आरोप लगाकर थाने और जिला अस्पताल में हंगामा करने लगे. मौके पर पहुंचे एसपी आकाश तोमर ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने मीडिया से बातचीत में बताया कि पूछताछ के दौरान युवक की हालत बिगड़ी थी और डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. एसपी ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है और तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी. वहीं समाजवादी पार्टी नेता सूरज सिंह ने भी प्रशासन से जांच की मांग की है और कार्रवाई की बात कर रहे हैं.

Tags: Gonda news, Gonda police



Source link

more recommended stories