UP MLC Election: अपने ही गढ़ में समाजवादी पार्टी की करारी हार, आजमगढ़ में निर्दलीय की जीत


आजमगढ़. विधानसभा चुनाव में आजमगढ़ की सभी 10 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली समाजवादी पार्टी को अपने ही गढ़ में बड़ा झटका लगा है. यूपी विधान परिषद चुनाव में आजमगढ़ सीट पर समाजवादी पार्टी को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है. मंगलवार को आए परिणाम में बीजेपी से 6 साल के लिए निष्कासित यशवंत सिंह के बेटे विक्रांत सिंह रिशु ने बीजेपी के अरुण कांत यादव को हराकर जीत दर्ज की. सपा के राकेश कुमार यादव उर्फ़ गुड्डू तीसरे नंबर पर रहे.

विक्रांत सिंह रिशु (Vikrant Singh Rishu) को 4075 वोट प्राप्त हुए, जबकि सपा विधायक रमाकांत यादव के बेटे अरुण कांत यादव पर दांव खेलने वाली बीजेपी (BJP) को 1262 मत प्राप्त हुए. तीसरे नंबर रहे सपा के राकेश उर्फ़ गुड्डू को 356 वोट प्राप्त हुए. निर्दलीय अम्ब्रीश कुमार विजयंता के 13 और सिकंदर कुशवाहा को तीन मत प्राप्त हुए. बता दें कि 36 सीटों में से समाजवादी पार्टी को एक भी सीट हासिल नहीं हुई है.

बीजेपी की 33 सीटों पर जीत 
9 सीटों पर निर्विरोध जीत दर्ज करने वाली बीजेपी ने जिन 27 सीटों पर मतदान हुए थे उसमें से 24 सीटों पर जीत हासिल की. इस तरह उसे 36 में से 33 सीटों पर जीत हासिल हुई. लिहाजा विधानसभा के साथ ही अब विधान परिषद में बह बीजेपी को प्रचंड बहुमत हासिल हो गया. ऐसा 40 बाद हुआ है जब किसी पार्टी को दोनों सदनों में बहुमत मिला हो. इससे सरकार को किसी भी बिल और विधेयक को पारित करवाने में आसानी होगी। तीन सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी की जीत हुई है. आजमगढ़ के अलावा वाराणसी में निर्दलीय प्रत्याशी अन्नपूर्णा सिंह तो प्रतापगढ़ सीट से जनसत्ता दल लोकतान्त्रिक के अक्षय प्रताप सिंह की जीत हुई है.

Tags: Samajwadi party, UP latest news, UP MLC Election 2022



Source link