UP: हरदोई में 23 हजार से अधिक मुर्दे पा रहे थे किसान सम्मान निधि का लाभ, ऐसे खुली पोल!


हाइलाइट्स

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में धांधली
अब तक हुई 3 करोड़ रुपये की रिकवरी

हरदोई. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi) का लाभ लेने वाले अपात्रों पर कृषि विभाग ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. दरअसल, हरदोई में किसान सम्मान निधि में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी सामने आई है. हरदोई में मृत हो चुके किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पा रहे थे. मामले का खुलासा होने के बाद हरदोई प्रशासन ने मृतक किसानों के सत्यापन की लिस्ट बनानी शुरू की है. अब तक सत्यापन के बाद कृषि विभाग ने 23 हजार 265 किसानों को मृत पाया है जिसने लगभग 3 करोड़ की रिकवरी की गई है. योजना का लाभ लेने वालों में बड़ी संख्या में मृतकों के मिलने के बाद कृषि विभाग ने सत्यापन का कार्य तेज कर दिया है.

हरदोई में पीएम किसान सम्मान निधि योजना द्वारा किसानों को लाभ दिया जा रहा है. जिले में कुल 7 लाख 15 हजार 472 के करीब किसान पंजीकृत हैं. कृषि विभाग ने सत्यापन के बाद पाया कि जिले के ऐसे कई किसानों के खाते में पीएम किसान सम्मान निधि की राशि भेजी जा रही है, जिनकी मौत हो चुकी है. मामले का खुलासा होने के बाद राजस्व विभाग व कृषि विभाग की टीमों द्वारा गांव-गांव जाकर मृतक किसानों के सत्यापन की लिस्ट बनानी शुरू की है, सत्यापन के बाद कृषि विभाग ने 23265 किसानों को मृत पाया है. जिनसे 2,95,60,750 रुपये की रिकवरी की गई है.

लखनऊ में कल से निकलेगा आगाज-ए-मोहर्रम का जुलूस; ट्रैफिक भी रहेगा डायवर्ट

इस मामलें में उप कृषि निदेशक डॉ नंदकिशोर ने बताया है कि जिले में अब तक 7 लाख 15 हजार 472 किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे थे और अब किसानों का सत्यापन किया जा रहा है जिसमें हजारों की संख्या में ऐसे किसान मिले हैं जिनकी मृत्यु हो चुकी है या अपात्र हैं उनकी सूची बनाई जा रही है. अबतक 23265 किसान मृत पाए गए हैं जिनसे 3 करोड़ रुपये की रिकवरी की जा चुकी है. सभी मृत किसानों के वारिसों का पंजीकरण कर योजना से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है. साथ ही सभी किसानों की ईकेवाईसी (इलेक्ट्रॉनिक-नो योर कस्टमर) भी करवाई जा रही है. उन्होंने बताया कि अगस्त के महीने में किसानों के खातों में पीएम किसान सम्मान निधि ट्रांसफर की जाएगी.

Tags: Hardoi News, Pm kissan samman nidhi, UP news, Yogi government



Source link

more recommended stories