Sushant Singh Rajput’s First Death Anniversary | इंजीनियरिंग छोड़ एक्टर बने, चांद पर खरीदा प्लॉट, ऐसी है सुशांत की कहानी



डिजिटल डेस्क, मुंबई। 14 जून 2020 दिन रविवार। कोरोना संक्रमण की वजह से मुंबई में लॉकडाउन था। घर के बाहर आना-जाना बंद और शूटिंग भी बंद। सुशांत अपनी गर्लफ्रैंड रिया चक्रवर्ती के साथ करीब तीन महीनों से एक ही फ्लैट में रह रहे थे। लेकिन 14 जून से कुछ दिन पहले रिया और सुशांत में झगड़ा होता है और रिया अपना सारा सामान लेकर सुशांत के घर से निकल जाती हैं। फिर 14 जून को दोपहर करीब 2 बजे खबर आती है कि सुशांत की बॉडी उनके फ्लैट में फंदे से झूलती हुई मिली है। ये खबर सभी को हैरान कर देती है। किसी को यकीन नहीं होता कि बॉलीवुड का एक चमकता सितारा अब इस दुनिया में नहीं रहा। पुलिस इसे खुदकुशी मानकर अपना इन्वेस्टिगेशन शुरू करती है। बाद में मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठते हैं और मर्डर का एंगल सामने आता है। जांच सीबीआई को सौंप दी जाती है। अब चलते हैं 14 जून 2020 की तारीख से 34 साल पहले।

21 जनवरी 1986 की तारीख, बिहार के पटना में कृष्णा कुमार सिंह और उषा सिंह के घर में एक लड़के का जन्म होता है। नाम रखा जाता है सुशांत। 4 बहनों में अकेला भाई। सबसे छोटा और सबका चहीता। मां का लाड़ला। पढ़ाई में होनहार। शुरुआती स्टडी सेंट कैरेंस हाई स्कूल, पटना और दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से होती है। इस दौरान उनकी मां का निधन हो जाता है। मां की मौत से पूरा परिवार टूट जाता है। फिर 2003 में सुशांत इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्ज़ाम देते हैं। इसमें वो ऑल इंडिया रैंकिंग में सातवें स्थान पर आते हैं और दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में एडमिशन ले लेते हैं। फिजिक्स से इतना लगाव की नेशनल ओलिंपियाड में विनर बनते हैं। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान, सुशांत का मन फिल्मों की ओर मुड़ जाता है और वो थिएटर और डांस क्लास जॉइन कर लेते हैं। अपने एक्टर बनने के सपने को पूरा करने के लिए वो लास्ट सेमेस्टर में इंजीनियरिंग छोड़ मायानगरी मुंबई पहुंच जाते हैं।

22 साल की उम्र में वो किस देस में है मेरा दिल नाम के सीरियल से अपने एक्टिंग करियर का डेब्यू करते हैं। इस सीरियल में वो हर्षद चोपड़ा के छोटे भाई का किरदार निभाते नज़र आए थे। उनकी प्रतिभा को पहचानकर एकता कपूर सुशांत को पवित्र रिश्ता ऑफर करती है। उन्हें लगता था कि मानव के किरदार में सुशांत की मुस्कुराहट फैन्स का दिल जीत लेगी और ऐसा ही हुआ। इस सीरियल से सुशांत को टीवी पर स्टारडम मिला। इसके बाद सुशांत टीवी पर दो रियलिटी शो झलक दिखला जा और ज़रा नच के दिखा में नजर आए। उनके डांस टैलेंट के लोग कायल हो गए। फिर मिला करियर का बड़ा ब्रेक। अभिषेक कपूर की फिल्म काई पो छे के साथ। काई पो छे, चेतन भगत की नॉवेल थ्री मिस्टेक्स ऑफ माई लाईफ का रीमेक थी और इस फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत ने ईशान नाम के लड़के का किरदार निभाया था.. जो लोगों को बेहद पसंद आया।

फिर राजकुमार हिरानी की फिल्म पीके में 10 मिनट के रोल ने उन्हें लाइमलाइट में लाकर खड़ा कर दिया। उन्हें कई बड़े बैनर्स की फिल्में ऑफर हुई। सुशांत को सबसे बड़ी कामयाबी मिली साल 2016 में। टीम इंडिया के सफलतम कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक एमएस धोनी द अनटोल्ड स्टोरी से। एम एस धोनी के किरदार के लिए सुशांत ने खुद को 1.5 साल तक ट्रेन किया। दिन में 200 से ज्यादा बार हेलीकॉप्टर शॉट की प्रैक्टिस की। ऐसा उन्होंने लगभग डेढ़ महीने तक किया था। इस फिल्म ने उन्हें खूब शोहरत दिलाई। इसके बाद सुशांत केदारनाथ, सोनचिड़िया और छिछोरे जैसी फिल्मों में नजर आए। उनकी आखिरी फिल्म दिल बेचारा था जो उनकी मौत के बाद रिलीज हुई।

करियर के दौरान सुशांत का नाम कई अभिनेत्रियों से जुड़ा। सुशांत पवित्र रिश्ता के समय अंकिता लोखंडे को डेट करने लगे थे। ये रिलेशनशिप काफी समय तक चली। छह साल बाद दोनों का ब्रेकअप हो गया। अंकिता लोखंडे के बाद सुशांत का नाम कृति सैनन, सारा अली खान और फिर रिया चक्रवर्ती के साथ जोड़ा गया। 

सुशांत को साइंस में काफी दिलचस्पी थी। उन्होंने चांद पर जमीन खरीदी थी। वो चंदा मामा दूर के नाम की एक फिल्म में काम करने वाले थे। फिल्मों से कमाए पैसों को साइंस प्रोजेक्ट में खर्च करते थे। उन्होंने अपनी टीम से 100 बच्चों की एक ऐसी लिस्ट बनाने को कहा था जो अमेरिका में ऐस्ट्रोफिजिक्स की पढ़ाई करना चाहते हो। सुशांत उनकी पढ़ाई का खर्चा उठाने वाले थे। सुशांत के पास एक टेलीस्कोप भी था। रात-रात भर वो इस टेलीस्कोप से आसमान को देखते थे।

अब फास्ट फॉर्वर्ड करते हुए चलते हैं वापस 14 जून 2020 की तारीख को। दोपहर करीब 2.30 बजे टीवी चैनलों पर सुशांत के सुसाइड की खबरें फ्लैश होनी शुरू हुईं। सुशांत का मृत शरीर मुंबई स्थित उनके घर पर मिला। पुलिस का कहना था कि सुशांत डिप्रेशन में थे उन्होंने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। हालांकि पुलिस को उनके घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। उनकी मौत पर प्रधानमंत्री से लेकर राज्यों के मुख्यमंत्री, क्रिकेट स्टार से लेकर तमाम बॉलीवुड सितारों ने अपनी संवेदना व्यक्त की। लेकिन तब किसी को नहीं पता था कि उनकी मौत का मामला आगे इतना उलझ जाएगा।

सुशांत के घर में मौजूद हाउस स्टाफ ने मुंबई पुलिस को बताया, “सुबह साढ़े 6 बजे सुशांत सोकर उठे। नौ बजे के करीब जूस पिया और वापस अपने कमरे में चले गए। कमरा अंदर से लॉक कर दिया। 10 बजे के करीब लंच में क्या बनाना है इस बारे में पूछने के लिए हाउस स्टाफ ने सुशांत का दरवाजा खटखटाया, लेकिन उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। इसके एक-दो घंटे बाद हाउस मैनेजर सिद्धार्थ पिठानी ने सुशांत की बहन को फोन किया। ताला-चाबी बनाने वाले को बुलाकर दरवाजा खुलवाया और फिर सामने जो दिखा, उसे देखकर सब सदमे में आ गए। सुशांत की लाश हरे रंग के कुर्ते से पंखे पर लटक रही थी। सिद्धार्थ पिठानी ने शव को पंखे से नीचे उतारा। इसके बाद सुशांत की बहन मीतू भी आ गईं। इस केस में सिद्धार्थ पिठानी इकलौते ऐसे शख्स है जिन्होंने सुशांत को फंदे पर झूलते हुए देखा। 

मुंबई पुलिस कई दिनों तक सुसाइड के एंगल पर इस मामले की जांच करती रही। नेपोटिज्म को लेकर बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियों से पूछताछ हुई। पूरे भारत में नेपोटिज्म पर चर्चा होने लगी। नेपोटिज्म के खिलाफ कंगना रनौत जैसे सेलेब्स खुलकर मैदान में उतर आए। फिर इस केस में नया मोड़ आया। मुंबई पुलिस की जांच से नाखुश सुशांत के पिता ने पटना के एक थाने में एफआईआर दर्ज कराई। सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर पैसों की हेराफेरी के आरोप लगाए गए। ये भी कहा गया कि रिया से सम्पर्क में आने के बाद सुशांत की दिमागी परेशानी बढ़ी। इसकी जांच की जाए। मामले की जांच के लिए बिहार पुलिस मुंबई पहुंच गई। इस वजह से दोनों राज्यों की पुलिस के बीच टकराव देखने को मिला और मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया। 

अब सीबीआई को मामले की जांच सौंप दी गई। ड्रग्स और पैसों का एंगल सामने आने के बाद नार्कोटिक्स और प्रवर्तन निदेशालय भी जांच में शामिल हो गया। सुशांत के फ्लैट-मेट सिद्धार्थ पिठानी समेत अन्य लोगों से पूछताछ हुई। ड्रग्स लेन-देन के मामले में रिया चक्रवर्ती, उसके भाई शोविक, सुशांत के हाउस स्टाफ में शामिल सैमुअल मिरांडा, दीपेश सावंत की गिरफ्तारी हुई। हाउस कीपर नीरज सिंह  और कुक केशव से भी पुलिस ने पूछताछ की। ड्रग सप्लायर जैद विलातरा, बासित परिहार, अनुज केसवानी, कैजान इब्राहिम, अब्बास अली लखानी और कर्ण अरोड़ा समेत अन्य लोगों को पुलिस ने पकड़ा।

अब सुशांत की मौत को एक साल बीत चूका है। इस एक साल में नेताओं के आरोप-प्रत्यारोप, नार्कोटिक्स विभाग की कार्रवाई, प्रवर्तन निदेशालय की पूछताछ, सीबीआई जांच, इंसाफ के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुशांत की बहन की चिट्ठी, और ना जाने क्या-क्या हुआ… लेकिन आज भी सुशांत की मौत रहस्य बनी हुई है।



Source link

more recommended stories