सर्किट हाउस में आयोजित ज़िला उधोग बन्धु समिति की बैठक में में , संभल डबल फाटक से करूला जाने वाले रेलवे फ्लाई ओवर पर लगने वाले जाम से मुक्ति के लिए ,, लोकोशेड रेलवे पुल की भांति ,, संम्भल डबल फाटक पुल को चौड़ी करण की मांग की गई है

इसी प्रकार प्रस्तावित 2031 के मास्टर प्लान में चारों दिशाओं में औधोगिक छेत्र विकसित करने पर ,आर्टीज़न ,कारखानेदार ,और छोटे निर्यातकों को ( हस्तशिल्पि उधोग ) विकास शुल्क मुक्त करने का प्रस्ताव FTPPA द्वारा दिया गया है*
*जैसे होटल व्यवसाय को विकास शुल्क मुक्त किया गया है उसी प्रकार हस्तशिल्प उधोग को भी विकास शुल्क मुक्त किया जाना जरूरी है*
*क्योंकि जितने रुपये में ज़मीन खरीद कर काम शुरू किया जा सकता है*
*लेकिन विकास शुल्क अधिक होने के कारण समय पर उत्पादन शुरू नहीं हो पाता है*
*इसलिए हस्तशिप उधोग को विकास शुल्क मुक्त किया जाना अति आवश्यक है आज की बैठक की अध्यक्षता CDO साहब द्वारा की गई संचालन GM DiC द्वारा किया गया बैठक में सय्यद ग़ानिम मियां ,राशिद अली ,नोमन मंसूरी गुलाब सिंह ,मोइनुद्दीन ,डॉ अरविंद शर्मा , तसख़ीर अहमद ,आदि सहित लग भग सभी विभागों के ज़िम्मेदार अधिकारी गण उपस्थित रहे*

more recommended stories