शुगर की दवा के नाम पर महंत को खिलाया जहरीला पदार्थ, अचेत होते ही लाखों लेकर चंपत हुआ चोर,Lakhs of rupees stolen from temple by feeding poison to the Mahant of Ayodhya

अयोध्या: शुगर की दवा के नाम पर महंत को खिलाया जहरीला पदार्थ, अचेत होते ही लाखों लेकर चंपत हुआ चोर.
अयोध्या: शुगर की दवा के नाम पर महंत को खिलाया जहरीला पदार्थ, अचेत होते ही लाखों लेकर चंपत हुआ चोर.


अयोध्या: शुगर की दवा के नाम पर महंत को खिलाया जहरीला पदार्थ, अचेत होते ही लाखों लेकर चंपत हुआ चोर.

हनुमान कुंड वार्ड में हनुमान खटला मंदिर के पुजारी को शुगर के इलाज के नाम पर एक अनजान व्यक्ति ने जहरीला पदार्थ खिला दिया. जिससे वह बेहोश हो गए. बाद में अनजान व्यक्ति रात में उनके कमरे से मंदिर निर्माण के लिए रखे लाखों रुपये लेकर मंदिर से चंपत हो गया.

अयोध्या. अयोध्या ( ayodhya ) में चोरों ने मंदिर के पुजारी को जहरीला पदार्थ खिला कर उसके कमरे से लाखों रुपये की चोरी की घटना को अंजाम दे दिया. मंदिर के पुजारी गंभीर रूप से अस्वस्थ हैं. उन्हें जिला अस्पताल में इलाज के बाद लखनऊ के लिए रेफर किया गया है. पुलिस इस मामले की पड़ताल में जुट गई है.

गौरतलब है कि हनुमान कुंड वार्ड में हनुमान खटला मंदिर के पुजारी को शुगर के इलाज के नाम पर एक अनजान व्यक्ति ने जहरीला पदार्थ खिला दिया. जिससे वह बेहोश हो गए. बाद में अनजान व्यक्ति रात में उनके कमरे से मंदिर निर्माण के लिए रखे लाखों रुपये लेकर मंदिर से चंपत हो गया. गनीमत रही कि चोर मंदिर के गर्भगृह तक नहीं पहुंच सका. भगवान के विग्रह और अन्य कीमती सामान सुरक्षित रहे.

ऐसी ही एक घटना बीते दिनों राम की पैड़ी स्थित गया मंदिर के महंत सुख राम दास के साथ हुई थी. उनको भी एक अज्ञात व्यक्ति ने इलाज के नाम पर जहरीला पदार्थ खिलाया गया था, जिससे उनकी मौत हो गई थी. मंदिर के महंत का तमाम कीमती सामान भी चोरी हो गया था. एक बार फिर एक मंदिर के पुजारी के साथ ऐसी ही घटना हुई है. हालांकि इस घटना पर पुलिस अभी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन इसमें पुलिस की नाकामी साफ दिख रही है.

मंदिर में रहने वाले प्रत्यक्षदर्शी विद्यार्थी ने बताया कि कल देर शाम पुजारी के पास एक व्यक्ति आया था जो अपने आपको बैध बता रहा था. उसने नीम के काढ़े को शुगर के इलाज के नाम पर पूजारी जी को दिया था. देर रात वह अंदर ही था. शुगर के इलाज के नाम पर दी गई दवा के कारण पुजारी अचेत हो गए और चोर घटना को अंजाम देकर कब निकला पता ही नहीं चला. सुबह 3 बजे उठने वाले पुजारी जब नहीं उठे तो विद्यार्थियों ने उनके कमरे में झांका. विद्यार्थियों को पुजारी मुरारी पांडे अचेत मिले. मंदिर के महंत को सूचना देने के बाद विद्यार्थियों ने पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने इलाज के लिए पुजारी को पहले श्री राम अस्पताल भेजा. श्री राम अस्पताल से डॉक्टरों ने पुजारी को जिला अस्पताल रेफर किया और गंभीर हालत को देखते हुए जिला अस्पताल से लखनऊ रेफर कर दिया गया है.







Source link

more recommended stories