शिवपाल सिंह यादव ने सीएम योगी को बताया ईमानदार और मेहनती, अखिलेश पर इशारों-इशारों में कसा तंज


लखनऊ. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सराहना करते हुए उन्हें ‘ईमानदार’ और ‘मेहनती’ बताया है. इसके साथ ही उन्होंने परोक्ष रूप से उन पर तंज कसते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान सदन के सभी सदस्यों और अन्य लोगों का सहयोग लिया होता तो स्थिति को बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था.

इस दौरान शिवपाल सिंह यादव द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की तारीफ किए जाने पर भाजपा सदस्यों ने मेज थपथपा कर उनका स्वागत किया. हालांकि इसी दौरान प्रसपा चीफ ने भाजपा सरकार के नारे का हवाला देते हुए उस पर तंज भी किया. उन्होंने कहा कि वादे के मुताबिक तो ‘सबका साथ और सबका विकास’ है, लेकिन सरकार ने सबका सहयोग नहीं लिया. उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री तो संत हैं, योगी हैं. योग का मतलब सबको जोड़ना होता है.’

अगर विपक्ष हमारा साथ ले लेता…
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ विपक्ष का सहयोग लेकर ही उत्तर प्रदेश को नई ऊंचाइयों तक ले जा सकते हैं. साथ ही उन्होंने विपक्ष पर भी तंज करते हुए कहा कि अगर विपक्ष हमारा साथ ले लेता तो बात अलग होती. प्रसपा चीफ ने कहा कि हमने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाई थी. आपने 100 प्रत्याशी भी घोषित कर दिए थे. अगर हमें टिकट दे देते तो वह (सपा गठबंधन) वहां (सत्ता पक्ष) और आप (भाजपा गठबंधन) यहां (विपक्ष) होते. शिवपाल सिंह यादव जिस वक्त सम्बोधन दे रहे थे, इस दौरान सदन में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दोनों ही मौजूद नहीं थे.

शिवपाल सिंह यादव ने भाजपा को दी ये सलाह
शिवपाल सिंह यादव ने योगी सरकार को सलाह दी कि वह केवल बुजुर्गों और बीमार लोगों को ही मुफ्त राशन दे, नौजवानों और तंदुरुस्त लोगों को राशन देकर उन्हें ‘आलसी’ ना बनाए.

बता दें कि शिवपाल सिंह यादव ने यूपी विधानसभा चुनाव इटावा की जसवंतनगर सीट से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के बजाय सपा के टिकट पर लड़कर जीता है. वह सपा के संस्थापक सदस्यों में एक हैं. वहीं, यूपी चुनाव के रिजल्‍ट के बाद उनका सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मनमुटाव चल रहा है. इसी वजह से वह अब तक सपा की किसी बैठक में शामिल नहीं हुए हैं. हालांकि यूपी विधानसभा चुनाव के बाद प्रसपा चीफ शिवपाल सिंह यादव के भाजपा में जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं, लेकिन हाल फिलहाल वह अपनी ही पार्टी को मजबूत करने में जुट गए हैं.

Tags: Akhilesh yadav, Shivpal singh yadav, Yogi adityanath



Source link

more recommended stories