सास के प्यार में पागल दामाद ने की आत्महत्या, पानीपत के होटल में बुक किया था कमरा

पानीपत में एक अजीबोगरीब परिस्थितियों में युवक की मौत का मामला सामने आया है। यहां पर एक युवक का शव होटल के कमरे में मिला है। युवक ने फांसी के फंदे पर लटककर अपने प्यार का इजहार किया था, लेकिन असल में ही फांसी लग गई।
जानकारी के मुताबिक करनाल निवासी युवक ने पानीपत बस स्टैंड के पास एक होटल में कमरा लिया था। यहां पर वह अपनी प्रेमिका चाची सास के साथ आया था। दोनों कमरे में रुके थे और कुछ समय बाद दोनों के बीच ऐसा क्या हुआ कि युवक ने सुसाइड कर लिया।
मृतक युवक की पहचान करनाल जिले के रतनगढ़ निवासी 31 वर्षीय राजेश के रूप में हुई है। सिटी थाने के पास सुखदेव नगर स्थित दुरेजा गेस्ट हाउस के मैनेजर छविराम ने बताया कि युवक ने शुक्रवार दोपहर 2 बजकर 17 मिनट पर यहां कमरा बुक कराया था, उसके साथ उससे करीब 10 साल बड़ी एक महिला भी थी।

बताया जा रहा है कि होटल में दोनों ने कुछ वक्त साथ बिताया था जिसके बाद युवक ने संदिग्ध परिस्थितियों में कमरे में ही फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। युवक ने जब फांसी का फंदा लगाया तो महिला डर गई और उसने शोर बचाया, जिसके बाद होटल के कर्मचारी पहुंचे।
इसके बाद तुरंत ही होटल के कर्मचारी कमरे में पहुंचे लेकिन तब तक युवक फांसी के फंदे पर लटक चुका था। इसके बाद आनन फानन में उसे फंदे से उतारा, लेकिन तब तक युवक की मौत हो चुकी थी। जिसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई।
मौके से मिले आधार कार्ड के मुताबिक महिला 41 साल की महिला पानीपत के सब्जी मंडी के पास पठान मोहल्ले की रहने वाली है। प्राथमिक जांच में पता चला है कि राजेश का रिश्ते में चाची सास लगती महिला के साथ चक्कर चल रहा था। इसी के चलते उन्होंने यहां कमरा लिया था।

इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई और महिला को हिरासत में ले लिया है। वहीं पुलिस की टीम ने युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है। वहीं महिला से पूछताछ की जा रही है।
बताया जा रहा है कि युवक जिस महिला के साथ आया था वह उसकी चाची सास लगती है। माना जा रहा है कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था और इसी वजह से उसने खुदकुशी की है।
पुलिस पूछताछ के दौरान महिला ने बताया कि दोनों ने होटल में कुछ समय बिताने के लिए आए थे। यहां पर दोनों ने अच्छा समय बिताया और बातचीत की थी। लेकिन बाद में युवक ने अपने प्यार का इजहार करने के लिए फांसी बनाई और कहा कि वह उसके लिए कुछ भी कर सकता है, लेकिन वो फांसी असल में लग गई और वो लटक गया।
रतनगढ़ निवासी रिश्तेदार ने बताया कि वह पांच बहन भाई हैं। मृतक सबसे छोटा था। मृतक की पांच साल पहले घरौंडा निवासी युवती के साथ शादी हुई थी। उनका तीन साल का एक बेटा भी है। मृतक का करनाल में जेल के सामने स्वामी जी बैक बोन केयर सेंटर है। इससे पहले वह पानीपत में देवी मंदिर के अंदर लोगों का उपचार करता था लेकिन लॉकडाउन के बाद उसने करनाल में ही काम शुरू कर दिया था।

more recommended stories