रक्षाबंधन 2022: बाइकों की पंचर जोड़ने वाली मुस्लिम बहनों से पुलिस अफसरों ने बंधवाई राखी, दिया सुरक्षा का वचन


हाइलाइट्स

बाइक व कार के पंचर जोड़कर अपने परिवार का पालन करतीं हैं.
रक्षाबंधन पर पुलिस का एक मानवीय चेहरा भी नजर आया.

इटावा. रक्षाबंधन का त्योहार शुक्रवार को मनाया जा रहा है. इसी कड़ी में इटावा में बाइकों की पंचर जोड़ने वाली गरीब मुस्लिम बहनों से सीओ व इंस्पेक्टर ने राखी बंधवाई. उन्हें मिठाई व वस्त्र भेंट किए तथा तिरंगा भी दिया. उन्होने एक बहन के इंटर के बाद की पढ़ाई का खर्चा उठाने की भी जिम्मेदारी ली. रक्षाबंधन पर पुलिस का एक मानवीय चेहरा भी नजर आया. हाईवे पर पश्चिमी तिराहे पर दो मुस्लिम बहनें तबस्सुम व यासमीन बाइक व कार के पंचर जोड़कर अपने परिवार का पालन करतीं हैं. गुरुवार को रक्षाबंधन पर सीओ भरथना विजय सिंह व इंस्पेक्टर बकेवर विद्यासागर सिंह ने इन मुस्लिम बहनों की दुकान पर पहुंच कर उन दोनों से राखी बंधवाई.

इन दो बहनों में से छोटी बहन तबस्सुम ने सीओ से कहा की वह इस साल कक्षा 12 पास कर चुकी है. वह आगे पढ़ना चाहती है परंतु उसके घर वाले उसे आगे नही पढ़ाना चाहते हैं. उनके पास पढ़ाई के लिए व्यवस्था नहीं है. इस पर सीओ भरथना ने उसे आगे पढ़ाई के लिए प्रवेश लेने को कहा. उन्होंने यह भी कहा कि कॉपी किताबों व फीस का खर्चा वे उठाएंगे.

देखिए पहले और अब में कितना बदला डॉन बृजेश सिंह, पहली बार परिवार के साथ पहुंचे काशी विश्वनाथ धाम

सीओ व इंस्पेक्टर ने उनके माता-पिता को समझाया तथा बेटी को पढ़ाने के लिए कहा. यह भी कहा कि पढ़ाने के बाद ही शादी करें. सीओ भरथना विजय सिंह ने बताया कि रक्षाबंधन के मौके पर उन्होंने दो गरीब मुस्लिम बहनों से आज राखी बंधवाई है. इस दौरान एक बहन ने पढने की इच्छा जाहिर की है जिस पर उसको पढने बाबत प्रवेश लेने को कहा है. उन्होंने बताया कि पढाई का खर्चा खुद वहन करने का भरोसा दिया है.

Tags: Etawah news, Hindu-Muslim, Rakshabandhan festival, UP news, UP police



Source link

more recommended stories