रायबरेली में मां करती है मजदूरी, बेटी ने पदक जीत बढ़ाया मान, सबा बोली- योगी जी से आशीर्वाद लेने की इच्छा


रिपोर्ट- सौरभ वर्मा

रायबरेली: अगर दिल में कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो हर मुश्किल आसान हो जाती है. फिर चाहे कितनी ही विषम परिस्थिति हो लेकिन मनुष्य के जज्बे के आगे बड़े से बड़ा पहाड़ बौना हो जाता हैं. जी हां ऐसा ही कुछ कर दिखाया है, रायबरेली की बेटी सबा बुतूल आब्दी ने जिन्होंने अपनी प्रतिभा के दम पर अपने परिवार के साथ अपने जिले का भी नाम रोशन किया है. सबा बुतूल एक ताइक्वांडो खिलाड़ी हैं. जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो प्रतियोगिता के दौरान चोट लगने के बाद भी हार नहीं मानी और अपने प्रतिद्वंदी को हराकर ब्रांज मेडल हासिल कर इतिहास रच दिया है .दरअसल फाइट के दौरान उनके हाथ में चोट लग जाने के कारण वह क्वार्टर फाइनल तक ही खेल सकीं. वरना सिल्वर या गोल्डमेडल का सफर भी जरूर पूरा हो सकता था.

कास्य पदक जीतकर रायबरेली लौटी सबा बुतूल ने जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव और अपर जिलाधिकारी अमित कुमार से आशीर्वाद लिया है. वहीं सबा बुतूल ने यह उपलब्धि दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी ताइक्वांडो काउंसिल के तत्वाधान में आयोजित फिफ्थ इंडिया ओपन इंटरनेशनल ताइक्वांडो चैम्पियनशिप में हासिल की है. इस चैंपियनशिप में भारत समेत नेपाल और अफगानिस्तान की टीमों ने हिस्सा लिया था. सबा बुतूल अपनी इस उपलब्धि का सारा श्रेय अपने कोच और माता जी को देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आशीर्वाद लेने की इच्छा रखती हैं.

मां करती है मजदूरी
उन्होंने बताया कि मेरी मां मजदूरी करके मेरे सपनों को पूरा कर रही हैं. इसी के साथ ही मेरे घर की आर्थिक स्थिति सही नहीं है जिसकी वजह से मुझे कई विषम परिस्थितियों का भी सामना करना पड़ता है. लेकिन मुझे फिर भी अपनी मां पर गर्व है कि वो हमारे हर सपने को पूरा करने के लिए मेहनत करती हैं.

Tags: CM Yogi, Raebareli News, Sports news, UP news, Yogi government



Source link