राजा की मंडी स्टेशन पर चामुंडा देवी मंदिर विवाद, हिंदू संगठन ने पोस्टर लगाकर किया प्रदर्शन


आगरा. आगरा में राजा की मंडी रेलवे स्टेशन स्थित चामुंडा देवी मंदिर को अतिक्रमण के दायरे में मानकर हटाने की मुहिम पर बवाल मचा है. रेलवे ने इसको लेकर नोटिस जारी किया, जिसके विरोध में हिंदू संगठन खड़े हो गए. चामुंडा देवी मंदिर की जमीन पर अतिक्रमण को लेकर रेलवे द्वारा जारी नोटिस के विरोध में हिंदू संगठनों ने आगरा के राजा की मंडी रेलवे स्टेशन पर पोस्टर लगा दिए हैं. रेलवे इस मामले को लेकर सभी पक्षों से बात कर कोई रास्ता निकालने की कोशिश में है.

गौरतलब है कि राजा की मंडी रेलवे स्टेशन पर प्रचीन चामुडा देवी का मंदिर स्थित है. इसे करीब 300 साल पुराना बताया जाता है. रेलवे ने इसे अतिक्रमण के दायरे में मानते हुए हटाने के लिए नोटिस जारी किया है. इसी के बाद हिंदू संगठन मंदिर के समर्थन में खुलकर आ गए हैं. रविवार को विश्व हिंदू परिषद ने इसके विरोध में रेलवे स्टेशन पर पोस्टर लगाकर रेलवे द्वारा जारी नोटिस के खिलाफ प्रदर्शन किया.

हिंदू संगठन के नेताओं का कहना है कि यहां पर मंदिर सैकड़ों साल पुराना है. यह रेलवे स्टेशन के निर्माण से पहले का है, इसलिए वह इसे यहां से नहीं हटने देंगे. इसके पीछे हिंदुओं की गहरी आस्था है. वहीं रेलवे के अधिकारी इस मामले पर मंदिर के समर्थन में सामने आ रहे पक्ष से बातचीत कर इसका हल निकालने की कोशिश में हैं. यह ऐसा मंदिर है जो रेलवे स्टेशन के अंदर है, जिसको लेकर रेलवे की गहरी आपत्ति है.

गौरतलब है कि बीते कुछ दिन पुर्व रेलवे ने चामुंडा देवी मंदिर को अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस जारी किया था. इस पर मंदिर की ओर से कोई प्रतिक्रिया आती, उससे पहले 25 अप्रैल को मुख्य रेल प्रबंधक आनंद स्वरूप ने एक पत्र ट्वीट कर इस मामले को और गर्मा दिया था. उनका कहना था कि राजामंडी रेलवे स्टेशन के 72 वर्ग मीटर के क्षेत्र पर मंदिर के कुछ हिस्से का निर्माण कर लिया गया है. यह रेलवे के शेड्यूल आफ डायमेंशन का उल्लंघन है. ये नहीं हटा तो राजामंडी रेलवे स्टेशन को बंद करने पर विचार किया जा सकता है.

Tags: Agra cantt Railway Station, Agra news, UP news





Source link

more recommended stories