Pilibhit: पीलीभीत के लोगों पर संक्रमण का डबल अटैक, डॉक्‍टर पस्‍त तो मरीज बेहाल


रिपोर्ट- सृजित अवस्थी

पीलीभीत. बदलते मौसम के बीच पीलीभीत वासी इन दिनों दोहरी मार झेल रहे हैं. दरअसल जिला अस्पताल पहले से ही स्टाफ की कमी से जूझ रहा है. ऐसे में तेजी से फैल रहे संक्रमण ने सबकी सांसें अटका दी है. जिला अस्पताल में पिछले दो दिनों एक हजार से ज्‍यादा मरीज आ चुके हैं.

बता दें कि सोमवार को जिला अस्पताल में वायरल फीवर के कुल 1540 मरीजों के पर्चे बनाए गए थे. वहीं, मंगलवार को सुबह 11 बजे तक ये आंकड़ा 1000 पार जा चुका था. इनमें से अधिकतर मामले वायरल बुखार के हैं. वहीं, डॉक्टरों की संख्या कम होने के चलते मरीजों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है.

डॉक्टरों के ट्रांसफर से बढ़ी टेंशन
दरअसल जिला अस्पताल में कुल 27 डॉक्टरों के पद सृजित हैं. जबकि इन पदों पर तैनाती काफी कम है. वहीं, पिछले दिनों हुए ट्रांसफर के बाद यह संख्या काफी कम हो गई है. ऐसे में 4 डॉक्टरों की ड्यूटी लगातार इमरजेंसी में लगाई जाती है, जिसके चलते ओपीडी में मरीजों को घंटों इंतजार करना पड़ता है.

ऐसे करें संक्रमण से बचाव
न्यूज़ 18 लोकल से बातचीत के दौरान जिला अस्पताल में तैनात फिजीशियन डॉ रमाकांत सागर ने बताया कि मौसम के बदलने के चलते बुखार के मामले बढ़ रहे हैं. ऐसे में लोगों को ध्यान रखना चाहिए कि वे शुद्ध पानी पिएं, खुले में बिकने वाली चीजों को खाने से परहेज करें. साथ ही भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचें और मास्क का जरूर प्रयोग करें. वहीं पूरे मामले को लेकर जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ बीएस यादव का कहना है कि डॉक्टरों और स्टाफ की कमी को लेकर शासन से पत्राचार किया गया है. जब तक स्टाफ की नियुक्ति नहीं होती, तब तक परेशानी बनी रहेगी.

Tags: Pilibhit news, UP government hospital



Source link

more recommended stories