पंजाब के जेल मंत्री रंधावा पहुंचे लखनऊ, माफिया मुख्तार अंसारी के करीबियों से मिलने का आरोप punjab government jail miniter reached lucknow sources said meet mukhtar ansari close people upns


पंजाब के जेल मंत्री रंधावा पहुंचे लखनऊ

पंजाब सरकार के जवाब के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट (SC) भी पहुंची है, जहां पर यह मामला चल रहा है.

लखनऊ. पंजाब (Punjab) के जेल मंत्री सुखजिंदर रंधावा के लखनऊ (Lucknow) दौरे से सियासी बवाल मच गया है. रंधावा के दौरे को लेकर सवाल भी उठ रहे हैं. इसी बीच शनिवार को पंजाब के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा गुपचुप तरीके से राजधानी लखनऊ पहुंचे. दावा किया जा रहा है कि वह लखनऊ में आकर मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के करीबियों से मिले हैं. उधर, यूपी सरकार ने पंजाब सरकार पर खुलेआम मुख्तार अंसारी को बचाने का आरोप लगाया है.

लखनऊ एयरपोर्ट से गोमतीनगर के एक पांच सितारा होटल तक पहुंचाने की व्यवस्था माफिया मुख़्तार अंसारी के करीबियों ने की थी. बताया जा रहा है कि यूपी से लेकर पंजाब तक मोबाइल टावर लगाने के धंधे से जुड़े लोग पंजाब के जेल मंत्री के आसपास देखे गए. चर्चा है कि मुख्तार के करीबी अब्बास, सईद अनवर और आसिफ पंजाब के मंत्री के आसपास देखे गए. लखनऊ में पंजाब के मंत्री के आने की वजह और उनसे मिलने जुलने वालों को लेकर चर्चा गर्म है.

UP: विधानसभा की प्राक्कलन समिति ने उठाए ACS सहकारिता पर सवाल! 3 प्रबंध निदेशक की संपत्ति का ब्यौरा तलब

बताया जा रहा है कि जिस मर्सडीज कार से मंत्री जी को एयरपोर्ट से फाइव स्टार होटल पहुंचाया गया उसकी व्यवस्था भी मुख्तार के करीबियों ने की थी. गौरतलब है कि बीते दो साल से माफिया मुख्तार अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है और उत्तर प्रदेश सरकार लगातार कोशिश कर रही है कि मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश की जेल में लाया जाए. लेकिन पंजाब सरकार की ओर से हर बार जवाब दिया जाता है कि मुख्तार अंसारी गंभीर बीमारियों जैसे डायबिटीज डिप्रेशन और स्लिप डिस्क का शिकार है.लिहाजा उसको ऐसी हालत में शिफ्ट नहीं किया जा सकता है. पंजाब सरकार के जवाब के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट भी पहुंची है, जहां पर यह मामला चल रहा है. ऐसे में पंजाब के जेल और सहकारिता मंत्री सुखजिंदर रंधावा का लखनऊ का दौरे का चर्चा में होना लाजमी है. रंधावा ने यहां पर किससे और क्यों मुलाकात की यह जानने की कोशिश की जा रही है.






Source link