Noida Twin Tower Demolition: डिप्टी CM ब्रजेश पाठक बोले- सपा सरकार के भ्रष्टाचार का जीवंत प्रमाण


हाइलाइट्स

नोएडा का सुपरटेक ट्विन टॉवर समाजवादी पार्टी के भ्रष्टाचार का प्रमाण
योगी आदित्यनाथ शासनकाल में यह अवैध इमारत जमींदोज हो रही है

लखनऊ. नोएडा में बनी भ्रष्टाचार की इमारत सुपरटेक ट्विन टॉवर को रविवार दोपहर ढाई बजे ढहा दिया जाएगा. इस बीच सुपरटेक ट्विन टॉवर पर सियासत भी शुरू हो गई है. सूबे के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने ट्विन टावर को लेकर समाजवादी पार्टी पर तीखा हमला किया है. उन्होंने ट्विन टॉवर को सपा शासनकाल में भ्रष्टाचार और अराजकता की नीति का जीवंत प्रमाण करार दिया है.

ब्रजेश पाठक ने ट्वीट करते हुए लिखा, नोएडा का सुपरटेक ट्विन टॉवर समाजवादी पार्टी के भ्रष्टाचार और अराजकता की नीति का जीवंत प्रमाण है. आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के शासनकाल में सपा के कुकर्मों की प्रतीक यह अवैध इमारत जमींदोज हो रही है. यह है न्याय, यही सुशासन..”

दरअसल, नोएडा में भ्रष्टाचार से बने ट्विन टॉवर रविवार को जमींदोज हो जाएंगे. बरसों से खड़ी दोनों गगनचुंबी इमारत दोपहर बाद मलबे के ढेर में तब्दील हो जाएगी. देश की 100 बड़ी इमारतों में शामिल नोएडा के ट्विन टॉवर भ्रष्टाचार की एक मिशाल है. इसमें न सिर्फ बिल्डर बल्कि सरकारी अधिकारी भी शामिल रहे. इसके खिलाफ बायर्स ने 10 साल की लंबी लड़ाई लड़ी और करीब 1 करोड़ का खर्चा हुआ. जिसके बाद पहले हाईकोर्ट ने और फिर अगस्त 2021 में सुप्रीम कोर्ट ने दोनों टावर्स को अवैध करार देते हुए ध्वस्तीकरण के निर्देश दिये.

ऐसे बदलती गई टॉवर को ढहाने की तरीख
-31 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने 30 नवंबर 2021 तक टॉवर को ढहाने का निर्देश दिया.
-इसके बाद 22 मई 2022 नई तारीख तय की गई20 फरवरी को एडिफिस और जेट डिमोलिशन ने साइट को अपने कब्जे में लिया.
-10 अप्रैल 2022 को ब्लास्ट ट्रायल किया गया. 21 अगस्त को नई डेट दी गई. विस्फोटक के लिए एनओसी और सीबीआरआई ने क्लियरेंस नहीं दी-अब 28 अगस्त को फाइनल ब्लास्ट होगा.

Tags: Deputy CM Brajesh Pathak, Noida news, Supertech twin tower, UP latest news



Source link