Noida: कुत्ते के हमले में मासूम की मौत पर लोगों में आक्रोश, सड़क जाम के बाद अब निकाला कैंडल मार्च


नोएडा: नोएडा के सेक्टर 100 स्थित लोटस बुलेवर्ड सोसाइटी में आवारा कुत्तों के हमले में जान गंवाने वाले 7 महीने के मासूम की घटना को लेकर दुख के साथ-साथ लोगों में आक्रोश भी दिख रहा है. कुत्ते के हमले में बच्चे की मौत को लेकर स्थानीय लोगों में आक्रोश इस कदर है कि वे सड़क जाम करने से लेकर कैंडल मार्च निकाल कर अपना विरोध जता रहे हैं. इस घटना के बाद सोसाइटी के लोग आवारा कुत्तों से सुरक्षा के लिए नोएडा अथॉरिटी से लेकर प्रशासन से गुहार लगा रहे हैं. इस बीच सोसाइटी के लोगों ने बुधवार की देर शाम कुत्ते के हमले में बच्चे की मौत के विरोध में कैंडल मार्च निकाला.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कुत्ते के हमले में बच्चे की मौत से सोसाइटी के निवासी आहत हैं. आवारा कुत्तों से उन्हें भी अब खतरा महसूस होने लगा है. यही वजह है कि प्रशासन तक अपनी बात पहुंचाने के लिए बुधवार की देर शाम बच्चे की मौत से गमगीन सोसाइटी के लोग इकट्ठा हुए और कैंडल मार्च निकाला. इसमें बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया. इनकी मांग है कि आवारा कुत्तों से उनकी सोसाइटी को सेफ किया जाए. बता दें कि बीते दिनों नोएडा सेक्टर 39 थाना क्षेत्र के सेक्टर 100 स्थित एक सोसाइटी में कुत्तों के हमले से घायल सात महीने के बच्चे की सोमवार देर रात को उपचार के दौरान मौत हो गई थी.


इस घटना से नाराज कई स्थानीय लोगों ने मंगलवार को सोसाइटी के बाहर प्रदर्शन किया और सड़क जाम किया. प्रदर्शनकारियों में कई महिलाएं भी शामिल थीं. लोगों ने स्थानीय नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ नारेबाजी भी की. सोसाइटी के रेजिडेंट ग्रुप के प्रतिनिधि धर्मवीर यादव ने बताया कि घटना शाम करीब साढ़े चार बजे हुई. उन्होने बताया कि सोमवार शाम को बच्चे को आवारा कुत्तों ने काट लिया. उसे यहां के निजी यथार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन बीती रात उसने दम तोड़ दिया. उन्होंने कहा कि पुलिस को इस बारे में सूचित किया गया जो मामले में कार्रवाई कर रही है.

सोसाइटी के अपार्टमेंट ओनर एसोसिएशन (एओए) के उपाध्यक्ष यादव ने कहा, ‘सोसाइटी के लोग कुत्तों से परेशान हैं. कई बार सोसाइटी की तरफ से इस समस्या को ठीक करने का प्रयास किया गया, लेकिन समाधान नहीं हो पाया.’ एओए उपाध्यक्ष ने कहा, ‘कई बार नोएडा प्राधिकरण से आवारा कुत्तों को लेकर शिकायत की गई, लेकिन प्राधिकरण के अधिकारी कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जिस तरह से कुत्तों के हमले से मासूम की मौत हुई है, सोसाइटी के लोग दहशत में है. यहां के बच्चे और महिलाएं अपने घरों से बाहर निकलने से घबरा रहे हैं.’

सेक्टर 39 के थाना प्रभारी निरीक्षक राजीव बालियान ने बताया कि सेक्टर-100 स्थित ‘लोटस बुलेवर्ड’ सोसाइटी में सोमवार को सड़क निर्माण का कार्य चल रहा था. मजदूर राजेश कुमार उनकी पत्नी सपना अपने सात महीने के बच्चे अरविंद को लेकर वहां पर काम करने आए थे. उन्होंने बताया, ‘सोमवार शाम को दोनों काम करते समय अपने बच्चे को छोड़कर कुछ आगे बढ़ गए. इसी बीच, सोसाइटी के तीन आवारा कुत्तों ने मासूम पर हमला बोल दिया. उन्होंने उसके शरीर को पूरी तरह से नोच दिया. इस हमले में बच्चे के पेट की आंत बाहर आ गई.’

थाना प्रभारी ने बताया कि स्थानीय लोगों ने बच्चे को नोएडा के यथार्थ अस्पताल में भर्ती करवाया लेकिन उपचार के दौरान सोमवार देर रात को बच्चे की मौत हो गई. उन्होंने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सोसाइटी के लोगों का आरोप है कि कई बार लिखित में शिकायत देने के बावजूद नोएडा प्राधिकरण आवारा कुत्तों से उन्हें निजात नहीं दिला पा रहा है. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले यहां मौजूद कुत्तों की नसबंदी की गई थी, जिसके बाद उन्हें वापस लाकर यहीं छोड़ दिया गया, जिससे समस्या और बढ़ गई.

Tags: Attack of stray dogs, Noida news





Source link