नोएडा में डिप्टी CM बृजेश पाठक को अचानक देखकर चौंके डॉक्टर, ड्यूटी रजिस्टर ने खोला राज!


नोएडा. उत्तर प्रदेश के डिप्टी CM और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक सोमवार को नोएडा पहुंचे. अचानक जिला अस्पताल पहुंचकर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया. स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने अस्पताल का रजिस्टर्ड चेक किया ओपीडी में मरीजों से बातचीत के बाद डॉक्टरों की जमकर फटकार लगाई. स्वास्थ्य मंत्री ने मरीजों से पूछा कि उनको किस प्रकार का इलाज दिया जा रहा है? अस्पताल द्वारा उनकी सेवा में कोई कमी तो नहीं है? अचानक उनके यहां आने से मौजूद स्टाफ के हाथपांव फूल गए.

बता दें कि बृजेश पाठक सीधे जिला अस्पताल के ओपीडी वार्ड में निरीक्षण किया. स्किन डिपार्टमेंट फिजियो थेरेपी, ऑर्थो  और टीवी डिपार्टमेंट का निरीक्षण किया और इस दौरान उन्होंने बाहर लाइन में खड़े मरीजों से व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी भी ली. स्वास्थ्य मंत्री ने सीएमएस रूम में गए वहां उन्होंने ड्यूटी रजिस्टर चेक किया. साथ ही अनुपस्थित व देरी से आने वाले डॉक्टरों की जानकारी ली. इसके बाद पोस्टमार्टम हाउस में ड्यूटी के बारे में जानकारी ली.


रजिस्टर चेक होने के दौरान कुछ डॉक्टर के एडवांस में हस्ताक्षर होने पर मंत्री ने सीएमएस को कारण बताओ नोटिस जारी करने का आदेश दिया. इसके बाद वे अस्पताल की ओपीडी में पहुंचे यहां दांतों के डॉक्टरों के कक्ष के बाहर बैठे मरीजों से हाल चाल लिया और डॉक्टरी परीक्षण के बारे में जानकारी ली.

UP Weather: यूपी में 17 से 18 जून के बीच मानसून दे सकता है दस्तक, जानिए कैसा रहेगा आज मौसम

इस दौरान उन्हें एक मरीज मिला जिसमें मंत्री को शिकायत कि वह पिछले 3 से 4 घंटे से अल्ट्रासाउंड के लिए इंतजार कर रहा है. इस दौरान उन्होंने डॉक्टर को निर्देशित किया कि लापरवाही ना हो और मरीज को जल्द से जल्द इलाज मिल जाए. जिला अस्पताल की सीएमएस डॉक्टर विनीता अग्रवाल और चीफ फार्मेसिस्ट आलोक पांडे इस दौरान मौजूद रहे. ‌डिप्टी सीएम स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए निर्देशित किया कि उन्हें 45 मिनट से ज्यादा अस्पताल में ना रोका जाए और उन्हें इलाज जल्द मुहैया कराया जाए. इसके लिए डॉक्टरों की संख्या भी बढ़ाने के लिए कहा गया है.

Tags: Bjp government, CM Yogi, Health Minister Brajesh Pathak, Noida news, Noida Police, UP news, Yogi government





Source link

more recommended stories