मुस्लिम शिक्षक पर छात्रा को पूजा का चंदन नहीं लगाने देने का आरोप, विवाद बढ़ा तो दी ये सफाई


मिर्जापुर. उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में मुस्लिम शिक्षक द्वारा मंदिर में पूजा का चंदन लगाने से रोकने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले में स्थानीय लोग और विहिप कार्यकर्ताओं ने मुस्लिम शिक्षक का विरोध जताते हुए आपत्ति प्रकट की. बता दें कि मिर्जापुर के लालगंज में स्थिति बापू उपरौध इण्टरमीडिएट कॉलेज में पूजा के लिए मंदिर बना हुआ है. मंदिर में पूजा के लिए स्थानीय पुजारी राम जी मिश्रा की नियुक्ति की गयी है, जो सालों से मंदिर में पूजा पाठ कर रहे हैं. मगर पूजा को लेकर विवाद तब उभरा जब पुजारी ने स्कूल के शिक्षक मोहम्मद कासिफ पर संगीन आरोप लगाते हुए शिकायत की.

शिकायत में कहा गया कि 8 सितंबर 2022 को जब स्कूल के प्रिंसिपल धर्मजीत सिंह छुट्टी पर थे तो उस समय प्रिंसिपल का चार्ज मोहम्मद कासिफ के पास था. वह उस दिन निरीक्षण करते हुए मंदिर के पास आये और पुजारी पर भड़क गये. वहां मौजूद छात्रा को चंदन लगाने पर भी उन्होंने आपत्ति जताते हुए डांट फटकार लगायी. पुजारी से पूजा का चंदन अंदर रखने को कहा. और बोला कि जब हम चार्ज में रहे तो यह सब नहीं रखा करो.

पुजारी ने चंदन लगाये जाने से रोकने की शिकायत स्थानीय लोगों से की. जिसके बाद स्थानीय लोगों और विहिप के कार्यकर्ताओं ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ विरोध जताते हुए स्कूल प्रिंसिपल से शिकायत की. स्थानीय लोगों का कहना है कि शिकायत पर कोई भी कार्रवाई नहीं हो रही है. आरोपी शिक्षक स्कूल को मदरसा बना देंगे. वह हिंदुओं से जलन रखते हैं.

वही आरोपों पर मुस्लिम शिक्षक मोहम्मद कासिफ ने सफाई देते हुए कहा कि मैं 2005 से इस विद्यालय में शिक्षक हूं. कभी नहीं रोका, तो उस दिन क्यों रोकता. मैने उस दिन छात्रों को क्लास में जाने के लिए बोला था. स्कूल के प्रिंसिपल का कहना है कि उन्होंने छात्रों को बोला था, मगर इसका गलत अर्थ लगा लिया गया.

Tags: UP news, UP news updates



Source link

more recommended stories