मुरादाबाद: जनपद के थाना मैनाठेर ईलाके में थाने से कुछ दूरी पर ही रहने वाले एक डॉक्टर के घर शातिर बदमाशों बीमारी का बहाना बनाकर उसका घर का गेट खुलवाकर घुस गये। बदमाशों ने फिर तमंचे के बल पर डॉक्टर और उसके परिवार को बंधक बनाकर लाखों रुपए का सोने-चांदी के जेवर लूटकर परिवार को एक कमरे में बंद कर फरार हो गए। बदमाशों के जाने के बाद जैसे तैसे डॉक्टर ने खुद को मुक्त कराया और पुलिस को घटना की सूचना दी मौके पर पहुंची। पुलिस ने जांच पड़ताल करना शुरू कर दी है। घटना की गंभीरता को देखते हुए खुद एसएसपी प्रभाकर चौधरी भी मौके पर पहुंचे। फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को भी बदमाशों की तलाश के लिए लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण विद्या सागर मिश्रा का कहना है मामला दर्ज कर लिया है जल्द इस घटना का ख़ुलासा कर देंगे। जानकारी के मुताबिक थाना मैनाठेर से कुछ ही दूरी पर रहने वाले डॉक्टर जय वंश सिंह के आवास पर बनी क्लिनिक पर सुबह 8 बजे एक व्यक्ति पहुंचा और डॉक्टर से कहने लगा कि उसके सीने में काफी दर्द हो रहा है। उसका इलाज कर दें, तब डॉक्टर ने उसे जवाब दिया कि वह हार्ट के डॉक्टर नहीं है, वो मुरादाबाद जाकर हार्ट वाले डॉक्टर को दिखाये। वह बाहर चला गया और बाहर जाते ही उसके साथ दोबारा 12 से 14 लोग अंदर आ गए और चार लोगों ने डॉक्टर के बेटे और बहू को बंधक बना लिया। नशे में आये बदमाशों के हाथ मे चाकू और तमंचे थे। बदमाशों ने सबको बंधक बनाकर मारपीट भी की, डॉक्टर के विरोध करने पर बदमाशों ने डॉक्टर की पोती को बंधक बनाकर एक घंटे तक घर मे लूटपाट की। बदमाश घर मे रखा 45 तोले सोने के आभूषण और 42 हज़ार रुपये लूटकर ले गये, पुलिस ने डॉक्टर जयंत की तहरीर पर मामला दर्ज कर अज्ञात बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है।

मुरादाबाद: जनपद के थाना मैनाठेर ईलाके में थाने से कुछ दूरी पर ही रहने वाले एक डॉक्टर के घर शातिर बदमाशों बीमारी का बहाना बनाकर उसका घर का गेट खुलवाकर घुस गये। बदमाशों ने फिर तमंचे के बल पर डॉक्टर और उसके परिवार को बंधक बनाकर लाखों रुपए का सोने-चांदी के जेवर लूटकर परिवार को एक कमरे में बंद कर फरार हो गए।

बदमाशों के जाने के बाद जैसे तैसे डॉक्टर ने खुद को मुक्त कराया और पुलिस को घटना की सूचना दी मौके पर पहुंची। पुलिस ने जांच पड़ताल करना शुरू कर दी है। घटना की गंभीरता को देखते हुए खुद एसएसपी प्रभाकर चौधरी भी मौके पर पहुंचे। फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को भी बदमाशों की तलाश के लिए लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण विद्या सागर मिश्रा का कहना है मामला दर्ज कर लिया है जल्द इस घटना का ख़ुलासा कर देंगे।

जानकारी के मुताबिक थाना मैनाठेर से कुछ ही दूरी पर रहने वाले डॉक्टर जय वंश सिंह के आवास पर बनी क्लिनिक पर सुबह 8 बजे एक व्यक्ति पहुंचा और डॉक्टर से कहने लगा कि उसके सीने में काफी दर्द हो रहा है। उसका इलाज कर दें, तब डॉक्टर ने उसे जवाब दिया कि वह हार्ट के डॉक्टर नहीं है, वो मुरादाबाद जाकर हार्ट वाले डॉक्टर को दिखाये। वह बाहर चला गया और बाहर जाते ही उसके साथ दोबारा 12 से 14 लोग अंदर आ गए और चार लोगों ने डॉक्टर के बेटे और बहू को बंधक बना लिया। नशे में आये बदमाशों के हाथ मे चाकू और तमंचे थे। बदमाशों ने सबको बंधक बनाकर मारपीट भी की, डॉक्टर के विरोध करने पर बदमाशों ने डॉक्टर की पोती को बंधक बनाकर एक घंटे तक घर मे लूटपाट की। बदमाश घर मे रखा 45 तोले सोने के आभूषण और 42 हज़ार रुपये लूटकर ले गये, पुलिस ने डॉक्टर जयंत की तहरीर पर मामला दर्ज कर अज्ञात बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है।