Moradabad: डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग सतर्क, 20 बेड का मच्छरदानी लगा वॉर्ड तैयार


रिपोर्ट : पीयूष शर्मा

मुरादाबाद. गिरते तापमान के बीच डेंगू के डंक का दायरा बढ़ने लगा है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, मुरादाबाद में डेंगू के कुल 65 मरीज अब तक सामने आए हैं. पिछले दिनों मुरादाबाद के मुबारकपुर गांव में सबसे ज्यादा 35 मरीज सामने आए थे. तो वहीं अब धीरे-धीरे डेंगू के मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. जिससे निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिला चिकित्सालय में 20 बेड का मच्छरदानी लगा वॉर्ड तैयार किया है. ताकि जिला अस्पताल में भर्ती होने वाले डेंगू के मरीजों को और राहत मिल सके.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एमसी गर्ग ने News18 Local को बताया कि मुरादाबाद में अब तक डेंगू के टोटल 65 मरीज सामने आ चुके हैं. यह अच्छी बात है कि एक भी मरीज की मृत्यु नहीं हुई है. डेंगू से निजात पाने के लिए एन्टी मोस्क्विटो, लार्वा स्प्रे, फोगिंग, सोर्स रिडक्शन, रैपिड टेस्ट किट, एलाइजा टेस्ट सहित इलाज में प्लेटलेट की व्यवस्था की गई है.

डेंगू के लक्षण

डेंगू होने पर तेज बुखार, सिर दर्द, मांस पेशियों और जोड़ों में दर्द होने लगता है. डेंगू में शरीर की प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगती है. इसमें मरीज को तुरंत अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत होती है, वरना समय पर इलाज न मिलने के कारण मरीज की जान भी जा सकती है. डेंगू के लक्षणों को पहचानकर ही इसका इलाज किया जा सकता है.

डेंगू से बचाव

जितना हो सके आप मच्छरदानी का इस्तेमाल करें. अपने घर के दरवाजे और खिड़कियों को शाम होने से पहले बदं कर दें. शरीर को पूरी तरह से कवर करने वाले कपड़े पहनें. कोशिश करें कि आसपास पानी इकट्ठा न हो. पानी को ढंक कर रखें. बाहरी पक्षी या पालतू जानवरों के पानी को नियमित रूप से बदलते रहें.

Tags: Dengue, Moradabad News, UP news



Source link