मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी की मुसलमानों से अपील: प्रदर्शन हमारा जम्हूरी हक, लेकिन अमन-शांति का दामन न छोड़ें


लखनऊ. टीवी डिबेट में भाजपा की निलंबित प्रवक्‍ता नूपुर शर्मा के आपत्तिजनक बयान के बाद मुस्लिमों में भड़के आक्रोश के बाद यूपी के कई शहरों से बवाल होने की खबरें आती रही हैं. कानपुर, प्रयागराज, अंबेडकर नगर, सहारनपुर समेत कई जिलों में उपद्रव की घटनाओं के बाद पुलिस एक्शन में है, तो वहीं मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी लोगों से शांति की अपील करनी शुरू कर दी है. मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी ने मुसलमानों से शांतिप्रिय और कानून के दायरे में प्रदर्शन करने का आग्रह किया है. उन्होंने कहा, ‘एहतिजाज (प्रदर्शन) करना हमारा जम्हूरी हक (लोकतांत्रिक अधिकार) है और एहतिजाज होना चाहिए, लेकिन कानून के दायरे में रह कर. इसलिए मेरी तमाम लोगों से अपील है कि वे अमन-शांति का दामन न छोड़ें. कानून के दायरे में रह कर प्रदर्शन करें.’

ऑल इंडिया तंजीम उलेमा-ए-इस्लाम के महासचिव मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी ने प्रदर्शनकारियों से संवैधानिक हदों में रहने की अपील की है. उन्होंने कहा, ‘पैगंबर मुहम्मद फरमाते हैं कि एक अच्छा मुसलमान वो है जिसके हाथ व जुबान से किसी को कोई तकलीफ न हो. हम तमाम मुसलमानों से गुजारिश करना चाहते हैं. हम पैगंबर व इस्लाम को मानने वाले हैं, जिसने हमें अमन व शांति का पैगाम दिया.’

इकबाल अंसारी ने भी की है शांति और सौहार्द की अपील
बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने मुस्लिम समाज के लोगों से अपील की है कि रोड पर उतरकर प्रदर्शन ना किया जाए. संवैधानिक दायरे में ही विरोध दर्ज कराएं. इकबाल अंसारी ने कहा कि सड़क पर प्रदर्शन कर केवल माहौल खराब होगा और कुछ नहीं होगा. संवैधानिक दायरे में संविधान के तहत जिलाधिकारी और कमिश्नर से मिलकर तथा जिलों में गठित मुस्लिम कमेटी के लोग सरकार को ज्ञापन दें. उन्‍होंने कहा कि चाहे मुस्लिम हो या हिंदू दोनों ही समाज धर्म के विरोध में जा रहे हैं. किसी भी धर्म में लड़ाई झगड़ा या हिंसा करना नहीं सिखाया जाता. इकबाल अंसारी ने सरकार से मांग की है कि टेलीविजन के माध्यम से धार्मिक टिप्पणी की जा रही है, जिससे माहौल खराब हो रहा है. धार्मिक टिप्पणी करने वाले चाहे वह हिंदू हों या मुसलमान सब के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए. उन्होंने मुस्लिम समाज से अपील की है कि मुस्लिम समाज के लोग सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन ना करें.

Tags: Communal Tension, Lucknow news, UP news, UP police





Source link

more recommended stories