मानिकपुर घाट पर गंगाजल लेते समय फिसला कांवड़िए का पैर; तेज धारा में डूबा युवक, प्रयागराज में मिला शव


हाइलाइट्स

सोमवार सुबह वो गांव के कुछ साथियों के साथ कांवड़ यात्रा में निकला था युवक.
सोमवार की दोपहर में मानिकपुर घाट पर गंगा में स्नान के बाद जल लेते समय अजीत का पैर फिसल गया.
देखते ही देखते अजीत नदी की तेज धारा के बीच पहुंच गया और डूब गया, जिससे उसकी मौत हो गई.

अमेठी. अमेठी थानाक्षेत्र के भीमी गांव का एक युवक सोमवार को अन्य साथियों के साथ कांवड़ यात्रा पर निकला था. सोमवार की दोपहर प्रतापगढ़ के मानिकपुर में पैर फिसलने से युवक डूब गया. मंगलवार शाम युवक का शव प्रयागराज में मिला. युवक की मौत से परिवार में कोहराम मच गया. अमेठी के भेटुआ ब्लॉक के भीमी गांव के रहने वाले 30 वर्षीय अजीत प्रताप सिंह उर्फ सोनू अमेठी के मिश्रौली में पत्नी मीनू सिंह व बेटी यमी के साथ रहकर प्राइवेट विद्यालय में पढ़ाते थे.

जानकारी के मुताबिक, सोमवार सुबह वो गांव के कुछ साथियों के साथ कांवड़ लेकर निकले थे. सोमवार की दोपहर में मानिकपुर घाट पर गंगा में स्नान के बाद जल लेते समय अजीत का पैर फिसल गया. देखते ही देखते अजीत नदी की तेज धारा के बीच पहुंच गए. कांवड़ यात्रा में साथ रहे लोगों ने तत्काल घटना की जानकारी पीआरवी के साथ स्थानीय पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस व गोताखोरों ने युवक की तलाश शुरू की लेकिन उसका कहीं कोई पता नहीं चला. गोताखोरों की ओर से किए गए लगातार प्रयास के बाद मंगलवार देर शाम अजीत का शव प्रयागराज में बरामद हुआ.

अजीत के मौत के बाद उजड़ गईं परिवार की खुशियां
पूरे मामले की सूचना मिलते ही भीमी गांव में मातम छा गया. नदी में डूबे मृतक अजीत उर्फ सोनू के पिता विजय बहादुर सिंह की पहले ही मौत हो चुकी है. परिवार में मां व अविवाहित बहन और उनकी पत्नी के साथ दो साल की एक बेटी हैं. पूरे परिवार की जिम्मेदारी अजीत पर ही थी. ग्रामीणों ने बताया कि अजीत की कमाई से ही पूरे परिवार का खर्च चलता था. घटना के बाद परिजन बदहवास हैं. मां के आंसू देख गोद में बैठी छोटी बिटिया के आंसू भी नहीं थम रहे हैं. अजीत के घर पहुंचने वालों की भी आंखें नम हो जा रही हैं.

Tags: Death, Ganga river, Kanwar yatra, UP news updates



Source link

more recommended stories