मांग भरने के पहले दूल्हे ने रखी ऐसी शर्त, दुल्हन ने शादी से इनकार कर वापस लौटा दी बारात, जानें मामला


उन्नाव. दहेज के लालची दूल्हे को दुल्हन ने बड़ा सबक सिखाया है. उसने शादी के फेरे के पहले ही शादी तोड़ दी. इसके बाद बारात बिना दुल्हन के लौट गई. दुल्हन के फैसले का परिजनों ने भी समर्थन किया है. दुल्हन की मां ने सफीपुर कोतवाली में दहेज एक्ट में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है, जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.

सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के शेरपुर खुर्द निवासी दुलारा ने अपनी बेटी सरोजनी का विवाह लखनऊ के बंदीखेड़ा के रहने वाले सुरेंद्र के साथ शादी तय की थी. बताया गया है कि तय कार्यक्रम के मुताबिक 17 जून को सुरेंद्र बारात लेकर पहुंचा और उत्साह के साथ सभी रीति रिवाज सम्पन्न हो रहे थे. देर रात दुल्हे की तरफ से 2 लाख रुपये अतिरिक्त दहेज की मांग कर दी. इसके बाद शादी में हंगामा शुरू हो गया.

पहले समझाया, नहीं माने तो दुल्हन ने लौटाया
दूल्हे ने दहेज की जिद की तो इससे शादी का रंग फीका होने लगा. दूल्हा पक्ष नहीं माना तो दुल्हन ने मांग भरे जाने की रस्म के पहले ही हंगामा कर बारातियों को खदेड़ दिया. दुल्हन ने दहेज न देने पर ही मांग की रस्म पूरी करने की शर्त रख दी, जिस पर दुल्हे के परिजनों ने इनकार कर दिया. कुछ देर बाद दुल्हन ने शादी से इनकार कर बारात वापस लौटा दी.

दुल्हन की मां ने थाने में की मामले की शिकायत
दुल्हन की मां ने सफीपुर कोतवाली में तहरीर देकर दहेज की मांग व मारपीट करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने मामले की जांच कर कार्रवाई की बात कही है. दुल्हन के इस निर्णय की पूरे क्षेत्र में चर्चा हो रही है.

Tags: Unnao News, UP news



Source link

more recommended stories