Mahalaxmi Vrat: महालक्ष्मी व्रत के दौरान भूल कर भी न करें ये काम, वरना हो जाएंगे कंगाल


रिपोर्ट: अभिषेक जायसवाल

वाराणसी: सात वार नौ त्योहार के शहर बनारस  में 3 सितम्बर से महालक्ष्मी व्रत (सोरहिया मेला) की शुरुआत हो चुकी है. इस व्रत के दौरान 16 दिनों तक महिलाएं मां लक्ष्मी (Maa Laxmi) की कृपा पाने के लिए व्रत रखने के साथ ही पूजा करती हैं, लेकिन इन 16 दिनों में कई ऐसे कार्य भी हैं जिनसे लोगों को बचना चाहिए नहीं तो मां लक्ष्मी आप से नाराज भी हो सकती हैं. आइए जानते हैं इन 16 दिनों तक कौन- कौन से ऐसे काम हैं जिनसे लोगो को बचना चाहिए…

वाराणसी के जाने माने विद्वान स्वामी कन्हैया महाराज ने बताया कि 16 दिनों तक व्रत के दौरान व्रती महिलाओं को अपने रिश्तेदारों या परिचितों के घर जाने से बचना चाहिए. इसके साथ ही 16 दिनों तक किसी को उधार पैसे नहीं देने चाहिए.

सिर्फ शुद्ध भोजन का करें सेवन
महालक्ष्मी व्रत के दौरान 16 दिनों तक घर में शुद्ध भोजन का सेवन ही करना चाहिए. इसके अलावा शराब, मांस का सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए इससे मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं. स्वामी कन्हैया महाराज ने बताया कि 16 दिनों तक घर में लड़ाई झगड़ा और कलह भी नहीं करना चाहिए.

ब्रह्म स्थान पर न रखें जूठा भोजन
इन सब के अलावा घर के ब्रह्म स्थान पर जूठा भोजन या गंदगी भी नहीं रखनी चाहिए इससे भी लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं फिर कभी भी उनकी कृपा भक्तों पर नहीं होती है. इसके अलावा लोगों को पैर से पैर लगड़ कर धोना भी नहीं चाहिए.ऐसी मान्यता है कि जो भी भक्त इन चीजों से परहेज करता है लक्ष्मी की कृपा उन पर सदैव बनी रहती है.

Tags: Varanasi news



Source link

more recommended stories