ललितपुर रेप कांडः आरोपी पूर्व एसएचओ को प्रयागराज से पुलिस ने किया गिरफ्तार


इलाहाबाद. ललितपुर जिले के पाली थाने के अंदर नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी पूर्व एसएचओ तिलकधारी सरोज को प्रयागराज से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी इंस्पेक्टर को प्रयागराज की सर्विलांस टीम ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर हाईकोर्ट के पास से गिरफ्तार किया है. रेप के आरोप में मुकदमा दर्ज होने के बाद फरार हुआ आरोपी इंस्पेक्टर कानूनी सहायता लेने के लिए प्रयागराज पहुंचा था. सुबह से उसकी लोकेशन अलग-अलग जगहों पर मिल रही थी. गिरफ्तारी से बचने के लिए वह लगातार लोकेशन बदल रहा था. एडीजी प्रेम प्रकाश ने बताया कि आरोपी इंस्पेक्टर की लोकेशन सुबह बांदा उसके बाद राजापुर चित्रकूट और फिर कौशांबी होते हुए प्रयागराज में मिली. आरोपी के लगातार लोकेशन बदलने की वजह से उसे गिरफ्तार करने में परेशानी हो रही थी. आरोपी इंस्पेक्टर अपनी पत्नी व अन्य रिश्तेदारों के फोन का इस्तेमाल कर रहा था. उसे गिरफ्तार करने के लिए प्रयागराज की सर्विलांस टीम को लगाया गया. जबकि सीओ ललितपुर के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गिरफ्तारी के लिए पहुंची थी और इस पूरे मामले में झांसी डीआईजी जोगेंद्र कुमार पुनिया और एडीजी जोन कानपुर भानु भाष्कर लगातार मॉनिटरिंग कर रहे थे.

आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उससे करीब आधे घंटे तक पूछताछ की गई. हालांकि पूछताछ में उसने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों से इनकार किया है और मुकदमे को फर्जी बताया है. लेकिन आरोपी के खिलाफ गैंगरेप की धाराओं में मुकदमा दर्ज है. गैंगरेप के आरोपी इंस्पेक्टर तिलकधारी सरोज को ललितपुर पुलिस टीम अपने साथ लेकर रवाना भी हो गई है. गिरफ्तारी के बाद सरोज ने कहा कि वो पूरी तरह से निर्दोष है और उसे झूठे मुकदमे में फंसाया गया है. उसने कहा कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी तो वह पूरी तरह से दोषमुक्त भी होगा. वहीं आरोपी इंस्पेक्टर की पत्नी संगीता सरोज भी एडीजी जोन के कार्यालय के बाहर मौजूद थी. संगीता सरोज ने भी अपने पति के ऊपर लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है. उसने कहा है कि उसके पति पिछले 4 महीने से ज्यादा समय से पाली थाने के इंचार्ज हैं और लगातार उन्होंने अच्छा काम किया है. कुछ ग्रामीणों ने भी उनके समर्थन में बयान दिया है और उनके पति का सर्विस रिकॉर्ड भी अच्छा रहा है. जबकि आरोप लगाने वाली महिलाओं का रिकॉर्ड अच्छा नहीं है.

पुलिस पर भरोसा
आरोपी इंस्पेक्टर की पत्नी संगीता सरोज ने कहा है कि उन्हें पुलिस के अधिकारियों पर पूरा भरोसा है. उन्होंने पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की है. आरोपी इंस्पेक्टर की पत्नी संगीता सरोज ने कहा है कि इस मामले को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई है. लेकिन इस मामले में किसी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए. बल्कि मैं खुद एक महिला हूं और मेरी एक 10 साल की बेटी है उसकी भावनाओं को देखते हुए इस मामले में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. संगीता सरोज ने स्वीकार किया है कि उनके पति पर गंभीर आरोप लगे हैं जिसके चलते ही कानूनी मदद लेने के लिए प्रयागराज आए थे. मामले में आगे की कार्यवाही अब ललितपुर पुलिस ही करेगी.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : May 04, 2022, 22:35 IST



Source link

more recommended stories