कोविड अस्पताल में ड्यूटी का फर्ज निभाने डॉ. सुमित शुक्ला ने टाली इंगेजमेंट, पिता को फोन कर दिया ये संदेश

कोरोना ड्यूटी का फर्ज निभाने डॉ. ने टाली इंगेजमेंट, दिया ये बड़ा संदेश
कोरोना ड्यूटी का फर्ज निभाने डॉ. ने टाली इंगेजमेंट, दिया ये बड़ा संदेश


कोरोना ड्यूटी का फर्ज निभाने डॉ. ने टाली इंगेजमेंट, दिया ये बड़ा संदेश

कोविड हॉस्पिटल में तैनात एक डॉक्टर ने मानवता की मिसाल पेश की. डा. ने मानव सेवा व ड्यूटी को प्राथमिकता देते हुए अपनी इंगेजमेंट स्थगित कर दी. डॉक्टर की इस सेवा भावना की तारीफ हो रही है.

सीतापुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सीतापुर में कोविड हॉस्पिटल (Covid Hospital) में तैनात एक डॉक्टर ने मानवता की मिसाल पेश की. डा. ने मानव सेवा व ड्यूटी को प्राथमिकता देते हुए अपनी इंगेजमेंट स्थगित कर दी. डॉक्टर की इस सेवा भावना की तारीफ हो रही है. डॉक्टर के सभी साथी भी इसकी सराहना कर रहे हैं. डॉ.सुमित शुक्ला ( Dr. Sumit Shukla) खैराबाद सीएचसी में बने कोविड 19 एल 2 हॉस्पिटल में ड्यूटी कर रहे हैं.

डॉ. सुमित शुक्ला उन लोगों के लिए नजीर बन गए हैं, जो लोग कोरोना को लेकर अपने कर्तव्य के पथ से भाग कर ड्यूटी करने से भाग रहे हैं. चुनाव के दौरान अक्सर देखा जाता है कि लोग कोई न कोई बहाना बनाकर चुनाव ड्यूटी से अपना नाम कटवा लेते हैं. खास कर इस बार चुनाव में यही देखने को मिल रहा है. हर कोई कोरोना संक्रमण को लेकर चुनाव ड्यूटी से अपना नाम कटवाने के लिए हर जतन कर रहे हैं, वहीं कोविड महामारी के चलते डॉक्टर सुमित ने अपनी इंगेजमेंट को स्थगित कर के मानवता की मिसाल पेश की है.

शुक्रवार को होनी थी इंगेजमेंट

खैराबाद ब्लाक के सरैया साहनी पीएचसी में तैनात डॉ सुमित शुक्ला की वर्तमान समय में सीएचसी खैराबाद को बनाए गए कोविड-19 एलटू हॉस्पिटल में ड्यूटी लगी हुई है. बताते चलें की वर्तमान समय में सीतापुर जिले में लगातार कोरोना मरीजों का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है. इन मरीजों को देखते हुए डॉ सुमित शुक्ला मानव सेवा को महत्व देते हुए अपनी इंगेजमेंट कैंसिल कर दी और लोगों की सेवा करने की ठान ली. इस बात की जानकारी जब सीएचसी सहित आसपास के इलाके के लोगों को हुई तो वह डॉ सुमित शुक्ला के कर्तव्य परायणता की सराहना करने लगे.मानवता की रक्षा के लिए कर्तव्य ज्यादा महत्वपूर्ण
डॉक्टर सुमित शुक्ला ने बताया कि मानवता की रक्षा के लिए कर्तव्य ज्यादा महत्वपूर्ण है. शेष जीवन के कार्य तो बाद में हो जाएंगे, लेकिन इस समय जो संक्रमण का दौर चल रहा है उसमें अगर मेरे थोड़े से प्रयास से मानवता की रक्षा हो पाई तो मैं अपने आप को धन्य मानूंगा. इसी भाव को ध्यान में रखकर मैंने अपने माता पिता को फोन करके अपनी इंगेजमेंट कोविड-19 ड्यूटी के चलते स्थगित करने की सूचना दी है.







Source link