कोरोना टीकाकरण के बारे में अफवाह फैलाने पर 3 व्यक्ति गिरफ्तार, SDM ने सुनाई अनोखी सजा

यूपी के सिद्धार्थनगर में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अफवाह फैलाने वाले तीन युवकों को एसडीएम ने अनोखी सजा सुनाई है.
यूपी के सिद्धार्थनगर में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अफवाह फैलाने वाले तीन युवकों को एसडीएम ने अनोखी सजा सुनाई है.


यूपी के सिद्धार्थनगर में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अफवाह फैलाने वाले तीन युवकों को एसडीएम ने अनोखी सजा सुनाई है.

Sidharthanagar News: एसडीएम त्रिभुवन कुमार ने अनोखा फैसला सुनाते ही कोरोना वैक्सीनेशन के खिलाफ अफवाह फैलाने वाले तीनों व्यक्तियों से कहा कि आपको 100-100 व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करना होगा और लगवाना भी होगा. लोगों को जागरूक भी करना होगा.

सिद्धार्थ नगर. एक तरफ जहां प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार कोरोना (COVID-19) से बचाव के लिए टीकाकरण (Vaccination) को प्रोत्साहित कर रही है, वहीं दूसरी तरफ कुछ असामाजिक व्यक्ति व्हाट्सएप और सोशल मीडिया पर इससे जुड़े तमाम अफवाहों को हवा दे रहे हैं. ताजा मामला डुमरियागंज के यूसुफपुर गांव का है. यहां तीन व्यक्ति कोरोना से बचाव के टीकाकरण को लेकर तरह-तरह की अफवाह फैला रहे थे. फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिए अफवाह फैलाने की सूचना जब एसडीएम एवं पुलिस को मिली तो तीनों को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया. नियमानुसार तीनों व्यक्तियों को जेल भेज देना चाहिए था, लेकिन एसडीएम त्रिभुवन कुमार ने एक अनोखा फैसला लिया. उन्होंने तीनों व्यक्तियों को बुलाया और उनकी काउंसलिंग की. उन्हें समझाया कि कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण ही एकमात्र रास्ता है, और इस तरह की अफवाह फैलाना कानूनन जुर्म है. उन्होंने तीनों व्यक्तियों से कहा कि आपको 100-100 व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करना होगा और उन्हें जाकर लगवाना भी होगा. इसके साथ लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक भी करना होगा इसके फायदे के बारे में लोगों को समझाना होगा. एसडीएम के सामने तीनों लोगों ने स्वीकार किया कि वे बहकावे में आकर व्हाट्सएप या फेसबुक पर भ्रामक सूचना फैला रहे थे. तीनों व्यक्तियों ने एसडीएम को भरोसा दिलाया कि वे कम से कम 100 लोगों का टीकाकरण  करवाएंगे और अन्य लोगों को भी जागरूक करेगे. थानाध्यक्ष डुमरियागंज सहित समस्त थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि गांव में चौकीदार अपना स्वयं टीकाकरण करा ले तथा ग्राम वासियों को जो 45 वर्ष से ऊपर है. कम से कम 100 टीकाकरण प्रत्येक गांव में कराने का लक्ष्य दिया जाए. प्रत्येक थाना इसी बिंदु पर समीक्षा चौकीदारों की सुनिश्चित करें, परंतु पहले यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि सभी चौकीदारों ने टीकाकरण करवा लिया है अथवा नहीं क्योंकि टीकाकरण ही कोरोना से बचने का एकमात्र उपाय है







Source link