कल काशी पहुंचेंगे पीएम मोदी, जान‌िए पूरे देश में कैसे लागू होगा वाराणसी घोषणा पत्र


वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को वाराणसी दौरे पर पहुंचेंगे. इस दौरान वे सिगरा स्थित रुद्राक्ष अंतरराष्ट्रीय कंवेंशन सेंटर में आयोजित शिक्षा समागम का शुभारंभ करेंगे. इसी के साथ वे नई शिक्षा नीति पर आधारित 3 मिनट की डॉक्‍यूमेंट्री भी देखेंगे. जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री यहां करीब सवा घंटे तक रुकेंगे, इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री, यूजीसी के चेयरमैन, शिक्षा मंत्रालय के सचिव और नई शिक्षा नीति बनाने में विशेष योगदान देने वाले शिक्षाविद के कस्तूरीरंगन भी मौजूद रहेंगे.
बताया जा रहा है कि शिक्षा समागम कार्यक्रम 7 जुलाई से शुरू होकर तीन दिन तक चलेगा. प्रधानमंत्री के शुभारंभ करने के बाद कार्यक्रम में विमर्श के बाद नई शिक्षा नीति की रूपरेखा तैयार होगी.

12 सत्रों में विमर्श
तीन दिन तक चलने वाले इस कार्यक्रम में 12 सत्रों में विमर्श किया जाएगा. इसके साथ ही निष्कर्षों के आधार पर यहीं से वाराणसी का घोषणा पत्र जारी कर पूरे देश में इसे लागू किया जाएगा. ऐसे में अब नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर वाराणसी मील का पत्‍थर साबित होने जा रहा है. इसी के साथ काशी केवल देश में ही नहीं विदेश में भी विख्यात होगा और चर्चा का विषय बनेगा. इस पूरे कार्यक्रम को लेकर जहां एक ओर वाराणसी वासियों में खुशी की लहर है वहीं उत्तर प्रदेश के बीजेपी नेता भी इस मील के पत्‍थर के स्‍थापित होने पर गर्व महसूस कर रहे हैं.

शामिल होंगे दिग्गज
बताया जा रहा है कि तीन दिन तक चलने वाले इस मंथन, विमर्श मे देश के सभी बड़े शिक्षाविद और प्रमुख मौजूद रहेंगे. इसमे केंद्र और राज्यों के शिक्षामंत्री, विश्वविदयालय अनुदान आयोग यूजीसी, एआईसीटीई, एनसीटीई, एनएएसी के चेयरमैन, पूरे देश के सभी शीर्ष शैक्षणिक संस्थानों के प्रमुख, सभी केंद्रीय, राज्य, डीम्ड और निजी यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर, सभी आईआईटी और आईआईएम, एनआईटी, आईआईएसईआर के 350 प्रमुख मौजूद रहेंगे. 12 सत्रों में चलने वाले इस विमर्श में नौ तकनीकी सत्र और दो सफलता की कहानी सत्र होंगे. इसमे किसी यूनिवर्सिटी के कुलपति और कोई प्रमुख शिक्षाविद अपने किसी योजना की सक्सेस स्टोरी सुनाएंगे.

Tags: Pm narendra modi, UP news



Source link

more recommended stories