कभी बेचती थी सब्जी, जानें कैसे बदली जिंदगी कि सीएम योगी ने भी कर दी तारीफ…


इटावा. मेहनत करने वालों की किस्मत बदलते देर नहीं लगती है. जी हां ! ऐसा ही कुछ हुआ है उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के भरथना की पूनम के साथ. बुधवार को पूनम अपने समूह की महिला सदस्यों के साथ राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक कार्यक्रम में शामिल हुई हैं. मुख्यमंत्री से मिलकर पूनम बेहद खुश दिखाई दीं. वह कभी सब्जी बेच कर अपना जीवन यापन करती थी. लेकिन बदहाल जिंदगी में तब सुधार आया जब पूनम शांति सहायता समूह से जुड़ कर पॉवर कारपोरशन की बिजली बिल जमा करने की योजना से जुड़ कर गांव गांव लोगों के बिजली जमा करने का काम मिला.

पूनम 2020 में बिल जमा कराने की योजना से जुड़ कर गांव गांव बिजली के बिल जमा करने में जुट गई. इस योजना के तहत आजतक पूनम पॉवर कॉरपोरशन को करीब दो करोड़ रुपए जमा कराए, जिसमे कमीशन के एवज में पूनम को दो लाख 63 हजार 543 रुपए हासिल किए. अगर सही मायने में देखें तो प्रतिमाह पूनम को 10 हजार से लेकर 15 हजार तक की आमदनी हो रही है.

सीएम योगी से मिलकर हुईं उत्साहित
विद्युत सखी के रूप में काम की शुरुआत करने वाली वाली पूनम ने कभी नहीं सोचा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनसे सीधे उनका हालचाल जानेंगे. मुख्यमंत्री ने पूनम से पूछा कि वे किस प्रकार काम कर रही हैं और उन्हें कितना मुनाफा हो रहा है. पूनम ने मुख्यमंत्री के इस सवाल पर कहा कि वह काफी उत्साहित हैं और प्रत्येक माह 13 लाख रुपये की वसूली कर रही हैं. इस पर सीएम योगी ने उन्हें शाबास कहा है.
भरथना के 850 घरों में बिजली बिल की वसूली
भरथना के 850 घरों में बिजली बिल वसूली को लेकर वह अपने समूह की महिलाओं के साथ जुड़ी हुई हैं. इस प्रयास के बल पर उन्हें प्रतिमाह 10 से 12 हजार रुपये कमीशन भी मिल रहा है. मुख्यमंत्री ने पूनम के प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि पूनम निश्चित तौर पर आपने अपने ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के साथ ही इटावा और उसके आसपास के जिलों की महिलाओं के लिए एक प्रेरक का काम किया है. देश में आपको विद्युत सखी के तौर पर इसी प्रेरणा के लिए चुना गया है. पूनम को देश की विभिन्न स्वयं सहायता समूह की महिलाओं में विद्युत सखी के तौर पर लाभार्थी चयन में शामिल किया गया.

Tags: CM Yogi Adityanath, Etawah news, UP news, UP Power Corporation



Source link

more recommended stories