Kanwar Yatra: कांवड़ यात्रियों के होते हैं कठिन संकल्प और मान्यताएं, जानकर रह जाएंगे हैरान

Meerut news, Kanwar Yatra, Kanwar Yatris, resolutions and beliefs, surprised, 14 july kanwar yatra, कांवर यात्रा, 14 जुलाई, कांवर यात्रा, मेरठ न्यूज़


मेरठ. चौदह जुलाई से कांवड़ यात्रा की शुरुआत हो रही है. विभिन्न स्तर पर व्यापक तैयारियां की गई हैं. कांवड़िए हरिद्वार से गंगाजल भरकर अपने गंतव्य की ओर रवाना होंगे. इस सब के बीच आज हम आपको बताएंगे कि कांवड़ कितने प्रकार की होती है. और हर कांवड़ का अलग-अलग क्या संकल्प होता है. कांवड़ कई प्रकार की होती है. उनमें से डाक कांवड़. सामान्य कांवड़. खड़ी कांवड़. और दंडवत कांवड़ के रुप में समझ सकते हैं.

डाक कांवड़ की बात की जाए तो इसे जल उठाने से लेकर जलाभिषेक तक बिना रुके कांवड़िए दौड़ते हैं. सामान्य कांवड़ वो कांवड़ होती है जहां कांवड़िए रुककर आराम कर सकते हैं. खड़ी कांवड़ के बारे में अगर बताएं तो इस कांवड़ को ज़मीन पर नहीं रखा जाता. जब कोई आराम करता है तो दूसरा उसे पकड़कर खड़ा रहता है. और दंडवत कांवड़. उसे कहते हैं जब एक निश्चित दूरी पर कांव़ड़िया लेटकर अपनी यात्रा पूर्ण करता है. अलग-अलग कांवड़ के संकल्प भी अलग अलग होते हैं

कांवड़ यात्रा को लेकर ख़ास तैयारियां की जा रही हैं. इस बार हेलिकॉप्टर से भी कावंड़ यात्रा की निगरानी की जाएगी.

ये भी पढ़ें… Kanwar Yatra: बुलडोजर वाली टी-शर्ट हुई आउट ऑफ स्टॉक, दुकानदार नहीं पूरी कर पा रहे डिमांड

हेलीकॉप्टर से होगी कांवड़ यात्रा की निगरानी
इधर, कांवड़ यात्रा को लेकर ख़ास तैयारियां की जा रही हैं. इस बार हेलिकॉप्टर से भी कावंड़ यात्रा की निगरानी की जाएगी. चार पांच ड्रोन और एक हज़ार सीसीटीवी भी लगातार निगाह रहेंगे. यही नहीं, जगह-जगह वाच टावर बनाए जा रहे हैं. इन वॉच टावर पर रातों दिन पुलिसकर्मी मौजूद रहेंगे. चार से पांच ड्रोन एक हज़ार के आसपास सीसीटीवी मौजूद रहेंगे.

एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि राज्य सरकार का हेलिकॉप्टर तीन दिन तक यहीं रहेगा. सावन की शिवरात्रि के आसपास हेलिकॉप्टर से होगी निगरानी की जाएगी. यही नहीं कांवड़ यात्रा के मद्देनज़र भैंसासी बस अड्डे को सोहराब गेट बस अड्डे शिफ्ट किया जा रहा है. ताकि ट्रैफिक मैनेजमेंट सुचारु रहे. एसपी ट्रैफिक ने बताया कि सावन के सोमवार के पर्व को लेकर और ज्यादा एहतियात बरता जा रही है.

Meerut news, Kanwar Yatra, Kanwar Yatris, resolutions and beliefs, surprised, 14 july kanwar yatra, कांवर यात्रा, 14 जुलाई, कांवर यात्रा, मेरठ न्यूज़

17 जुलाई की रात से रुट डायवर्ज़न शुरु हो जाएगा. 24 से 26 जुलाई को लेकर विशेष व्यवस्था की गई है. ट्रैफिक पुलिस ने कांवड़ यात्रा के मद्देनज़र माइक्रो प्लानिंग की है.

तीन दिनों के लिए रहेगी विशेष व्यवस्था
17 जुलाई की रात से रुट डायवर्ज़न शुरु हो जाएगा. 24 से 26 जुलाई को लेकर विशेष व्यवस्था की गई है. ट्रैफिक पुलिस ने कांवड़ यात्रा के मद्देनज़र माइक्रो प्लानिंग की है. एसपी ट्रैफिक जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि हर पहलू को ध्यान में रखकर यातायात व्यवस्था को सुचारु करने का प्लान तैयार किया गया है. क्योंकि आजकल रैपिड रेल का भी कार्य भी युद्धस्तर पर चल रहा है. लिहाज़ा आरआरटीएस के प्रोजेक्ट को ध्यान में रखकर भी ट्रैफिक प्लान दुरुस्त किया गया है.

ये भी पढ़ें…कांवड़ यात्रा में दिखने लगे भोले के दीवाने, कोई 121 तो कोई 101 किलो गंगा जल लेकर दौड़ रहा

Meerut news, Kanwar Yatra, Kanwar Yatris, resolutions and beliefs, surprised, 14 july kanwar yatra, कांवर यात्रा, 14 जुलाई, कांवर यात्रा, मेरठ न्यूज़

स्वास्थ्य महकमा भी कांवड़ यात्रा को लेकर चौकन्ना है. किसी कांवड़िए की अगर रास्ते में तबियत खराब हो जाए तो उसे फौरन उपचार मिल सके इसे लेकर ख़ास व्यवस्थाएं की जा रही हैं.

कांवड़ियों की तबियत खराब होने पर मिलेगी उपचार की सुविधा
वहीं, स्वास्थ्य महकमा भी कांवड़ यात्रा को लेकर चौकन्ना है. किसी कांवड़िए की अगर रास्ते में तबियत खराब हो जाए तो उसे फौरन उपचार मिल सके इसे लेकर ख़ास व्यवस्थाएं की जा रही हैं. जगह जगह सीएचसी और पीएचसी में तो उपचार होगा ही कांवड़ यात्रा मार्ग पर कई मेडिकल कैंप्स भी लगाए जाएंगे. मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान का कहना है कि मेरठ मण्डल में सबसे ज्यादा कांवड़िए आते हैं. अन्य राज्यों के कांवड़िए भी मंडल के जनपदों से होकर गुजरते हैं. उन्होंने कहा कि मंडल के सभी जनपदों के सीएमओ को निर्देश दिए गए हैं.

कावड़ियों से अपील- अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें
हेल्पलाइऩ नम्बर भी कांवड़ियों को उपलब्ध कराया जाएगा. डॉक्टर अशोक तालियान ने कहा कि कोविड़ के बाद कांवड़ यात्रा हो रही है. कांवड़ियों से उन्होंने अपील की है कि जिन्हें पहले कोविड़ हो चुका है और किसी को कोई कॉम्पलीकेशन है तो वो विशेष ध्यान रखें. क्योंकि गर्मी काफी है इसलिए सभी कांवड़िए पानी का सेवन करते रहें. सीएमओ डॉक्टर अखिलेश मोहन ने कहा कि कांवड़ मार्ग पर कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर में चिकित्सकों की उपलब्धता चौबीस घंटे रहेगी. सरधना रोहटा जानी दौराहा सरुरपुर और भूड़बराल सीएचसी में इलाज सुनिश्चित होगा. कावड़ मार्ग पर कुल 31 मेडिकल कैंप्स लगाए जा रहे हैं. हर कैंप के अंदर एक डॉक्टर स्टाफ नर्स वार्ड ब्यॉय उपलब्ध रहेंगे. टीम एम्बुलेंस के साथ कॉंटैक्ट में रहेंगी.

एक कमांड सेंटर भी कावड़ यात्रा को लेकर बनाया जा रहा है. हेल्थ से संबंधित किसी भी समस्या के समाधान के लिए व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं. कांवड़ यात्रा कंट्रोल रुम का नम्बर भी जल्द शेयर किया जाएगा. मार्ग में पड़ने वाले 44 प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर्स से भी सहयोग लिया जाएगा.

Tags: Kanwar yatra, Meerut news



Source link

more recommended stories