काम की खबर: झांसी मेडिकल कॉलेज में जल्‍दी शुरू होगी किडनी ट्रांसप्लांट सेवा, बस इतना आएगा खर्चा

Maharani Laxmi Bai Medical College


रिपोर्ट:शाश्वत सिंह

झांसी. उत्तर प्रदेश के झांसी स्थित महारानी लक्ष्मी बाई मेडिकल कॉलेज में जल्द ही किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा शुरू होने जा रही है. अभी तक किडनी ट्रांसप्लांट के मरीजों को कानपुर या ग्वालियर जाना पड़ता था. इस सुविधा के शुरू होने के बाद झांसी और आसपास के जिलों के मरीजों को किडनी ट्रांसप्लांट में सहूलियत मिलेगी. वहीं, मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक किडनी रोगियों की जान बचा सकेंगे. इतना ही नहीं सरकारी मेडिकल कॉलेज में महज 1 लाख रुपए के खर्च में किडनी ट्रांसप्लांट हो जाएगा, जिससे लोगों पर ज्यादा भार भी नहीं पड़ेगा.

किडनी ट्रांसप्लांट करने के लिए आईसीयू, नेफ्रोलॉजिस्ट, यूरोलॉजिस्ट, एनेस्थेटिस्ट, ब्लड बैंक और डायलिसिस मशीन का होना आवश्यक है. मेडिकल कॉलेज में नए बने सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक में नेफ्रोलॉजी और यूरोलॉजी की सुविधाएं उपलब्ध हैं. इसके साथ ही किडनी ट्रांसप्लांट से जुड़ी अन्य सभी सुविधाएं भी इस सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक में उपलब्ध होंगी. किडनी ट्रांसप्लांट के लिए एक अलग से आईसीयू तैयार किया जा रहा है और डॉक्टरों की ट्रेनिंग भी जल्द शुरू हो जाएगी. बता दें कि निजी अस्पतालों में किडनी ट्रांसप्लांट का खर्च 7 से 9 लाख रुपए होता है. जबकि मेडिकल कॉलेज में यह ट्रांसप्लांट सिर्फ 1 लाख रुपए में हो सकेगा.

हर महीने आते हैं 300 से अधिक मरीज
अभी तक किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा सिर्फ पीजीआई लखनऊ में उपलब्ध थी. झांसी प्रदेश का दूसरा मेडिकल कॉलेज होगा जहां यह सुविधा शुरू की जाएगी. मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य और नेफ्रोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. एन एस सेंगर ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में हर महीने लगभग 300 मरीज आते हैं. इनमें से 10 प्रतिशत को हर महीने रेफर करना पड़ता है. किडनी ट्रांसप्लांट की सुविधा शुरू होने के बाद इन मरीजों का इलाज मेडिकल कॉलेज में ही आसानी से किया जा सकेगा. उन्होंने बताया कि हर महीने 25 से 30 ब्रेन डेड मरीज मेडिकल कॉलेज आते हैं.उनके परिजनों से बात करके उनके गुर्दे को किसी जरूरतमंद मरीज में ट्रांसप्लांट करने की योजना है.

Tags: Jhansi news, Kidney transplant, UP government hospital



Source link

more recommended stories