कैमरे में कैद कीजिए यूपी की धरोहरों की खूबसूरत तस्वीरें, योगी सरकार देगी पुरस्कार; जानें कैसे


लखनऊ: अगर आप प्रोफेशनल फोटोग्राफी के जानकार हैं और पुरातत्व स्थलों और धरोहरों की तस्वीरें खींचने का शौक रखते हैं तो यह अच्छी खबर आपके लिए ही है. आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर यूपी के पुरातत्व और संस्कृति विभाग की ओर से फोटोग्राफी प्रतियोगिता का अयोजन किया गया है. इसमें उत्तर प्रदेश के सांस्कृतिक महत्व के धरोहरों की बेहतरीन तस्वीरें खींचने वालों के लिए योगी सरकार की ओर से पुरस्कार की भी घोषणा की गई है. इस पुरस्कार में एंट्री भेजने की अंतिम तिथि 15 अगस्त है.

उत्तर प्रदेश राज्य पुरातत्व विभाग के निदेशक की ओर से इस बारे में जानकारी दी गई है. बताया गया है कि यह प्रतियोगिता सभी आयु-वर्ग के लोगों के लिए आयोजित की जा रही है. इसमें उत्तर प्रदेश राज्य पुरातत्व विभाग की ओर से संरक्षित धरोहरों के फोटोग्राफ्स ही मान्य होंगे. एक स्मारक के चार एंगल से फोटोग्राफ्स लेने होंगे. साथ ही फोटोग्राफ्स का रिजोल्यूशन 600 डीपीआई से कम का ना हो. इसके अलावा फोटोग्राफ्स पर किसी प्रकार का वाटरमार्क और नाम नहीं लिखा होना चाहिए. सभी चयनित फोटोग्राफ्स पर विभाग का कॉपीराइट रहेगा.

क्या है पुरस्कार राशि
इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर आने वाले प्रतिभागियों को योगी सरकार की ओर से क्रमश: 10 हजार, 7 हजार और 5 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा. इसके अलावा 2-2 हजार रुपये के 2 सांत्वना पुरस्कार भी दिये जाएंगे. अन्य प्रतिभागियों को भी निराश होने की आवश्यक्ता नहीं है. किसी भी स्थान पर ना आने वाले प्रतिभागियों को सरकार की ओर से सहभागिता प्रमाणपत्र दिया जाएगा.

और जानकारी के लिए क्या करें
यूपी सरकार द्वारा आयोजित इस फोटोग्राफी प्रतियोगिता के बारे में 9648128227 पर व्हाट्सऐप करके अधिक जानकारी हासिल की जा सकती है. प्रतियोगिता के लिये फोटोग्राफ्स uparchaeologicalactivities@gmail.com के मेल पर 15 अगस्त से पहले भेजना होगा.

Tags: Azadi Ka Amrit Mahotsav, Lucknow news, Uttar pradesh news



Source link

more recommended stories