जज्‍बे को सलाम: 75 साल के राम गोपाल बाजपेयी में है युवाओं जैसी फुर्ती, ताइक्वांडो में मनवाया अपना लोहा


रिपोर्ट- अखंड प्रताप सिंह

कानपुर. यूपी के कानपुर के 75 साल के बुजुर्ग ने वह कारनामा कर दिखाया है जो 25 साल के युवा नहीं कर सकते. हम बात कर रहे हैं कानपुर के रहने वाले राम गोपाल बाजपेयी की, जिन्होंने 75 साल की उम्र में शहर का नाम रोशन किया है. इसके अलावा उन्‍होंने देश ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ताइक्वांडो में कई पदक हासिल कर कानपुर का मान बढ़ाया है.

न्यूज़ 18 लोकल से बातचीत में राम गोपाल बाजपेयी ने बताया कि उनका बचपन से ही ताइक्वांडो के प्रति लगाव था. शुरुआत में परिवार की जिम्मेदारी के चलते दूरसंचार विभाग में नौकरी करनी पड़ी, लेकिन इस दौरान भी उनका लगाव ताइक्वांडो के प्रति कम नहीं हुआ. उन्होंने 1983 से ताइक्वांडो की प्रैक्टिस करनी शुरू कर दी थी. 2007 में जब वे नौकरी से रिटायर हुए, तब उनका असली सफर शुरू हुआ. रिटायरमेंट के बाद जहां आदमी सारी चीजों से दूर आराम करने की सोचता है, वहां राम गोपाल बाजपेयी ने एक नया मिशन ठाना और देश का नाम ताइक्वांडो में विश्व स्तर पर ऊंचा करने का सपना लेकर इसकी तैयारी में जुट गए. इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा. पहले स्टेट लेवल पर गोल्ड जीता. उसके बाद नेशनल लेवल पर गोल्ड जीता और फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम बढ़ाया और कई पदक जीते.

वर्ल्ड चैंपियनशिप 2024 की कर रहे हैं तैयारी
राम गोपाल बाजपेयी ने बताया कि वे अब वर्ल्ड चैंपियनशिप 2024 की तैयारी कर रहे हैं. उनकी उम्र 75 साल है. इस उम्र में उनका खेल के प्रति लगाव और जुनून देखते ही बनता है. वह प्रतिदिन अपनी प्रैक्टिस करना नहीं भूलते हैं. घर पर ही उन्होंने एक कमरे में अपनी प्रैक्टिस के लिए पूरा इंतजाम कर रखा है, जहां पर वह रोजाना सुबह और शाम अपनी प्रैक्टिस करते हैं.

लोन लेकर किया है प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग
राम गोपाल बाजपेयी ने बताया कि उनको फेडरेशन की तरफ से मदद नहीं मिलती है. वह जितनी भी चैंपियनशिप में जाते हैं उसका खर्चा वह खुद उठाते हैं, जिसके लिए उन्होंने कई बार लोन भी लिया है.

Tags: Kanpur News Today, Sports news



Source link

more recommended stories