इटावा: बरसाती पानी में अंडरपास में फंसा ट्रक, 3 घंटे फंसे रहे चालक-परिचालक


हाइलाइट्स

इटावा अंडरब्रिज में भरा 15 फुट तक पानी.
ट्रक फंसा, तीन घंटे की मशक्कत के बाद बची जान.

इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा में मूसलाधार बरसात से बेशक भीषण गर्मी से लोगों को राहत मिली है लेकिन जलभराव के कारण काफी परेशानियां भी सामने आ रही हैं. बरसात के पानी से इटावा का सबसे अहम मैनपुरी इटावा अंडरब्रिज प्रभावित हुआ है. इसमें करीब 15 फुट के आसपास पानी भरने से आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया है. इस अंडरब्रिज पर रामपुर से आ रहा एक ट्रक पानी में फंस गया. हालत यह थी कि करीब तीन घंटे तक चालक परिचालक छत पर बैठ कर अपनी जान बचाने की गुहार लोगों से लगाते रहे.

जानकारी के अनुसार, सुबह 6 बजे के आसपास दमकल गाड़ी आई और राहत कार्य के जरिए दोनों को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया. दरअसल रामपुर से प्लाई-बोर्ड लादकर इटावा आ रहा एक ट्रक इसमें फंस गया. अंडरपास में घुसते ही अंधेरा था, जिससे गहराई का अनुमान नहीं हुआ. ट्रक आगे बढ़ता गया और देखते ही देखते उसमें पानी भरने लगा. यह देख ट्रक चालक और परिचालक घबरा गए और दोनों किसी तरह ट्रक की छत पर चढ़े. काफी देर तक दोनों लोगों से मदद की गुहार लगाते रहे.

लम्बे समय से बनी हुई है समस्या
सुबह सिविल लाइन थाना पुलिस मौके पर पहुंची. अग्निशमन वाहन को बुलाया गया और उसके बाद ट्रक चालक का रेस्क्यू करके बाहर निकाला गया लेकिन ट्रक अभी भी वहीं पर फंसा हुआ है. बता दें कि इटावा मैनपुरी फाटक अंडरपास ब्रिज अक्सर बरसात में इसी तरह भर जाता है. मैनपुरी, आगरा जाने वाला ये एक मात्र मार्ग है. इस अंडरपास में पानी भरने की समस्या इसके निर्माण के बाद से ही चली आ रही है लेकिन अभी तक इससे बचाव के कोई ठोस कदम नहीं उठाये गए हैं. इस अंडरपास में पिछले साल बरसात के दौरान एक बच्चे की भी डूबकर मौत हो गई थी लेकिन शासन प्रशासन की आंखे अभी तक नहीं खुली हैं.

फिलहाल नगर पालिका प्रशासन की टीमें अंडरब्रिज के दोनों तरफ मुस्तैद कर दी गई है. अब इस अंडरब्रिज में किसी भी वाहन को जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है. मुख्य अग्निशमन अधिकारी तबारक हुसैन ने बताया कि आज तड़के अंडरब्रिज मे ट्रक के फंसे होने की सूचना मिलने के बाद दमकल की रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और सीढ़ी लगाकर दोनों चालक परिचालक को बाहर निकाला. ना सिर्फ अंडरपास बल्कि इटावा में कई जगहों पर बारिश का पानी भर रहा है, जो व्यवस्थाओं की पोल खोल रहा है.

Tags: Etawah news, Uttar pradesh news, Water logging



Source link

more recommended stories