इंडिया एक्सपो सेंटर में सीपीएचआई और पीमेक इंडिया फार्मा मेले 80 से अधिक देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए


नई दिल्ली. इंडिया एक्सपो सेंटर, ग्रेटर नोएडा में फार्मा मशीनरी, उपकरण, सामग्री और तकनीक के प्रदर्शन के लिए व्‍यापार मेला शुरू हुआ, इस का आयोजन इन्फोर्मा मार्केट्स इन इंडिया सीपीएचआई और पीमेक इंडिया द्वारा किया गया. यह मेला कोविड के बाद फार्मास्युटिकल निर्माण के एक नए रूप तथा आकार को प्रदर्शित करने पर केंद्रित है. इसमें दुनिया भर से 40,000 से अधिक आगंतुक, 1500 से अधिक प्रदर्शक और 80 से अधिक देशों के प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं.

मेले में फार्मा मशीनरी, उपकरणों, प्रयोगशाला तकनीक, उपकरणों, सामग्री का प्रदर्शन किया जा रहा है. इस संबंध में एक दिन पूर्व दिल्‍ली में सीपीएचआई इंडिया प्री कनेक्‍ट कांग्रेस 2022 आयोजित किया गया था, जिसमें कई कंपनियों के सीईओ शामिल हुए.

समारोह को संबोधित करते हुए इन्फोर्मा मार्केट्स इन इंडिया के प्रबंध निदेशक योगेश मुद्रास ने कहा कि भारत के फार्मास्युटिकल क्षेत्र ने मैन्‍युफैक्‍चरिंग के मामले में खुद को साबित किया है और महामारी के बाद के क्रम में एक लाइफ लीडर के रूप में यह क्षेत्र उभरा है. भारत का फार्मास्युटिकल क्षेत्र 50 अरब अमेरिकी डॉलर का उद्योग है और एक दशक से भी कम समय में कम से कम 150 अरब अमेरिकी डॉलर तक बढ़ने का अनुमान है. सरकार इस क्षेत्र को मजबूत करने के लिए नई रणनीतियां भी विकसित कर रही है और इनोवेशन हब बनाने के लिए भारत को डिजिटल स्वास्थ्य में इनोवेशन के लिए एक आदर्श आधार बना रही है. सभी प्रतिभागी सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ के सिद्धांत को आगे बढ़ाने में अपनी भूमिका निभाएंगे.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

उत्तर प्रदेश

दिल्ली-एनसीआर

उत्तर प्रदेश

दिल्ली-एनसीआर

सीपीएचआई और पीमेक इंडिया के 15वें संस्करण के उद्घाटन रवि उदय भास्कर, डॉ. वीरमणि एस.वी, एवीपीएस चक्रवर्ती और बोर्ड मेंबर फार्मेक्सिल साहिल मुंजाल और जैसे प्रमुख व्यक्ति मौजूद रहे. प्रमुख प्रदर्शकों में हेटेरो, अरबिंदो, सिग्नेट, टेवा, ऑप्टिमस, लोन्ज़ा कैप्सूल, मर्क, आईएमसीडी, फेट कॉम्पैक्टिंग, एल्माच, एसीजी, बीडी फार्मा, आईएमए, कैडमैक, जीईए और कई अन्य कंपनियां शामिल हुई हैं.



Source link