IAS रानी नागर ने अब अपने भाई पर ही लगाया रकम हड़पने का आरोप, क्यों हमेशा रहती हैं सुर्खियों में?

IAS Rani NAgar, IAS Officer Rani Nagar, Haryana Cadre, 2014 batch rani nagar, Haryana Government, ghazibad news, cm Manohar lal Khattar,rani nagar Resigned, Uttar Pradesh, Gautambuddha nagar, आईएएस रानी नागर, रानी नागर, रानी नागर ने भाई पर लगया आरोप, संपत्ति विवाद, गाजियाबाद, एसएसपी मुनीराज जी, गाजियाबाद पुलिस, रानी ने रकम हड़पने का लगाया आरोप, इस्तीफा, ताबीज, सुरक्षा, दूध का बिल, रानी नागर से साथ उत्पीड़न, हरियाणा कैडर की 2014 बैच की आईएएस अधिकारी रानी नागर,


नई दिल्ली. हरियाणा कैडर की 2014 बैच (Haryana Cadre 2014 Batch) की आईएएस अधिकारी रानी नागर (IAS Rani Nagar)  एक बार फिर से चर्चा में आ गई हैं. इस बार रानी नागर ने अपने भाई (Brother) पर ही सवा करोड़ रुपये हड़पने का आरोप लगाया है. रानी गाजियाबाद के नगर कोतवाली क्षेत्र की न्यू पंचवटी कॉलोनी की रहने वाली हैं. रानी ने भाई के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का केस दर्ज कराने के लिए गाजियाबाद के एसएसपी (Ghaziabad SSP)  मुनीराज जी को पत्र लिखा है. रानी ने भाई पर इनकम टैक्स का भुगतान न करने का भी आरोप लगाया है. इसके लिए इनकम टैक्स कमिश्नर को भी चिट्ठी लिखी है. रानी नागर वर्तमान में हरियाणा सरकार में अतिरिक्त सचिव के पद पर कार्यरत हैं. हालांकि, रानी नागर पिछले कुछ सालों से लगातार अवकाश पर ही रह रही हैं.

साल 2014 बैच की आईएएस अधिकारी रानी नागर हमेशा चर्चा का विषय बनी रहती हैं. बीते 18 जुलाई को ही नागर ने फेसबुक पोस्ट के जरिए अपने भाई पर कई तरह के आरोप लगाए हैं. कुछ महीने पहले रानी ने मां पर भी अपने दिवंगत पिता के पेंशन को लेकर आरोप लगाई थीं. इस बार फेसबुक पोस्ट के जरिए नागर ने गाजियाबाद के लालकुआं इलाके के राज कंपाउंड में रहने वाले अपने भाई सचिन नागर पर संपत्ति हड़प कर बेचने का आरोप लगाया है. नागर ने गाजियाबाद के एसएसपी को भेजे पत्र में कहा है कि सचिन नागर ने वर्ष 2013 में उनसे नेहरू नगर स्थित मकान की रजिस्ट्री यह कहकर अपने नाम करा ली थी कि वह उसका भुगतान शीघ्र ही उन्हें कर देंगे. 9 साल बाद भी सचिन नागर ने मकान का पैसा उन्हें अब तक नहीं दिया है, जबकि वर्ष 2014 में ही सचिन नागर ने उस मकान को 95 लाख रुपये में किसी दूसरे शख्स को बेच दिया.

रानी नागर ने जब 2020 अपने ऊपर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए इस्ताफा दिया था तो कई लोग रानी के समर्थन में आ गए थे. (फाइल फोटो)

आईएएस अधिकारी रानी का भाई पर क्या है आरोप

रानी नागर ने फेसबुक पर पोस्ट किए पत्र में जिक्र किया है कि साल 2010 से 2018 तक उनके भाई ने उनके बैंक खाते में 30 लाख रुपये ट्रांसफर कराए, लेकिन बार-बार अनुरोध करने पर अब तक बाकी बचे पैसे वापस नहीं कर रहे हैं. रानी नागर ने अपने भाई पर अचल संपत्ति बेचने पर इनकम टैक्स का भुगतान न करने का भी आरोप लगाया है. उन्होंने इनकम टैक्स विभाग के चीफ कमिश्नर को पत्र लिखकर सचिन नागर से आयकर वसूलने तथा उनके खिलाफ धोखाधड़ी सहित कई धाराओं में केस दर्ज करने की मांग की है. रानी ने अपने भाई से सरकारी ब्याज दर के हिसाब से 1.25 करोड़ रुपये वापस दिलाने की भी मांग की है.

एसएसपी ने क्या कहा

गाजियाबाद के एसएसपी मुनीराज जी ने नागर के पत्र को लेकर कहा है कि महिला आईएएस अधिकारी द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच कराई जाएगी. जांच में जो तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

रानी इसलिए लगातार सुर्खियों में रहती हैं

गौरतलब है कि रानी नगर साल 2018 से किसी न किसी वजह से लगातार सुर्खियों में रह रही हैं. कुछ महीने पहले ही उन्होंने राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा भेज दिया था. इससे पहले 4 मई 2020 को भी रानी नागर ने खुद की सुरक्षा का हवाला देते हुए इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने तब भी फेसबुक के माध्यम से ही इस्तीफा दिया था. इस बार भी रानी ने इस्तीफे की कॉपी हरियाणा के मुख्य सचिव और केंद्रीय कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को भी भेज दी है.

IAS Rani NAgar, IAS Officer Rani Nagar, Haryana Cadre, 2014 batch rani nagar, Haryana Government, ghazibad news, cm Manohar lal Khattar,rani nagar Resigned, Uttar Pradesh, Gautambuddha nagar, आईएएस रानी नागर, रानी नागर, रानी नागर ने भाई पर लगया आरोप, संपत्ति विवाद, गाजियाबाद, एसएसपी मुनीराज जी, गाजियाबाद पुलिस, रानी ने रकम हड़पने का लगाया आरोप, इस्तीफा, ताबीज, सुरक्षा, दूध का बिल, रानी नागर से साथ उत्पीड़न, हरियाणा कैडर की 2014 बैच की आईएएस अधिकारी रानी नागर,
रानी नगर साल 2018 से किसी न किसी वजह से लगातार सुर्खियों में रह रही हैं.

स्वास्थ्य कारणों से रानी लगातार छुट्टी पर ही रहती हैं

आपको बता दें कि रानी नागर स्वास्थ्य कारणों से लगातार छुट्टी पर ही चल रहीं हैं. इस बार भी रानी नागर ने राष्ट्रपति से भारतीय प्रशासनिक सेवा के नियमों का हवाला देते हुए इस्तीफा स्वीकार करने का आग्रह किया है. साल 2020 में रानी नागर ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि उनको और उनकी बहन को जान का खतरा है. रानी नागर ने हरियाणा के ही एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. यह मामला अदालत में लंबित है. रानी नागर ने उस आईएएस अधिकारी पर कई तरह के आरोप लगाए हैं.

2020 में भी रानी ने दिया था इस्तीफा

रानी नागर ने जब 2020 अपने ऊपर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए इस्ताफा दिया था तो कई लोग रानी के समर्थन में आ गए थे. यूपी के पूर्व सीएम और बीएसपी सुप्रीमो मायावती और बीजेपी नेता और उस समय केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने भी रानी नागर के समर्थन में आकर इस्तीफा वापस लेने को कहा था. हरियाणा सरकार सरकार ने नागर का इस्तीफा अस्वीकार कर उनका कैडर हरियाणा से बदल कर उत्तर प्रदेश करने की भी सिफारिश की थी.

रानी और बहन पर हुआ था हमला

मई 2020 में ही रानी नागर और उनकी बहन के ऊपर किसी अज्ञात व्यक्ति ने जानलेवा हमला किया था. इस हमले में रानी नागर तो बच गईं, लेकिन उनकी बहन रीमा नागर को गंभीर चोटें आई थीं. इस संबंध में रानी नागर ने ट्वीट और फेसबुक के जरिये जानकारी दी थी. नगर कोतवाली थाना पुलिस ने उनके भाई सचिन नागर की तहरीर पर मामला दर्ज कर जांच की थी.

house tax, ghaziabad house tax news, ghaziabad news, house tax news in ghaziabad, ghaziabad municipal corporation, new house tax rules in ghaziabad, building, shops, Municipal Corporation Seal, Ghaziabad Municipal Corporation Seal, हाउस टैक्स, गृह कर, गाजियाबाद न्यूज, मकान मालिकों को क्यों मिल रहा है नोटिस, गाजियाबाद नगर निगम सील करेगी दुकान, गाजियाबाद नगर निगम सील, बकाएदारों पर बड़ी कार्रवाई, गाजियाबाद नगर निगम न्यूज, यूपी न्यूज, दिल्ली-एनसीआर न्यूज
मई 2020 में ही रानी नागर और उनकी बहन के ऊपर किसी अज्ञात व्यक्ति ने जानलेवा हमला किया था.

ये भी पढ़ें: केजरीवाल सरकार ने शुरू की दिल्ली की महिलाओं के लिए एक और नई स्कीम, जानें इसकी खासियत

स्वास्थ्य कारणों से नागर लगातार छुट्टियों पर चल रही हैं. कुछ साल पहले नागर की मां ने रानी का मानसिक इलाज कराने की बात से इंकार कर दिया था. नागर बीते 23 मई को ही अपनी हत्या की आशंका जताते हुए अपने फेसबुक अकाउंट पर ताबीज और कारतूस की फोटो शेयर की थी. दूध की कीमत को लेकर भी रानी ने फेसबुक पोस्ट में दुकानदार पर बिल नहीं देने का आरोप लगा चुकी हैं.

Tags: Ghaziabad Police, Haryana news, IAS, IAS Officer, UP news



Source link

more recommended stories