हरदोई : भाई बनकर ससुराल पहुंच गया प्रेमी, पति ने झगड़ते देखा तो सच हुआ उजागर, परिवार के उड़ गए होश


हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई से एक बेहद अजीबोगरीब कहानी सामने आई है. यहां एक प्रेमी शादी के बाद अपनी प्रेमिका के ससुराल पहुंच गया और वहां अपनी प्रेमिका का भाई बनकर रहने लगा. घरवालों को उस भाई पर शक तो था लेकिन नई-नई शादी होने के कारण लोग बहू से कुछ कह नहीं पाए. सोमवार रात को युवती के पति ने अपनी पत्नी और उसके तथाकथित भाई को मारपीट करते हुए देख लिया, जिसके बाद पूरे मामले की पोल खुल गई.

पति ने गुस्से में तथाकथित भाई को अपनी पत्नी को मारने से रोका, लेकिन पत्नी ने अपने पति को रोक दिया. पत्नी ने बताया कि ये उसका प्रेमी है, इसको कोई मारे नहीं. यह सब सुनकर ससुराल वाले सदमे में आ गए. उन लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस और लड़की के मायके पक्ष को दी, जिसके बाद सभी लोग मौके पर पहुंचे. पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले गई, जहां पर काफी विवाद के बीच युवती ने अपने बालिग होने का हवाला देते हुए कहा कि वह अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती है. फिर पुलिस ने मामला शांत करवाकर दोनों को साथ में भेज दिया.

यह घटना हरदोई के शाहबाद की है. युवती की शादी 14 मई को हुई थी और 22 मई को उसका प्रेमी कानपुर से हरदोई अपनी प्रेमिका के ससुराल पहुंच गया. 23 मई की रात को युवक अपनी प्रेमिका को थप्पड़ मार रहा था, तभी उसके पति ने उसको देख लिया. इसके बाद 24 मई को मामला थाने तक पहुंच गया, जहां पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका को साथ भेज दिया.

दोनों कोचिंग में साथ पढ़ते थे
बताया जाता है कि ये दोनों युवक युवती एक ही कोचिंग में साथ पढ़ते थे, जहां दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग शुरू हो गया. कुछ दिनों बाद युवक कानपुर के कल्याणपुर स्थित अपने घर चला आया. इधर 14 मई को प्रेमिका के परिजनों ने उसकी शादी शाहाबाद कस्बा के युवक से कर दी. इस पर प्रेमी मौसेरा भाई बनकर प्रेमिका की ससुराल जा धमका, जहां पर प्रेमिका को थप्पड़ मारते पति ने देख लिया.

पति के सामने जब उनका भेद खुला तो उसने पत्नी को साथ रखने और पिता ने मायके ले जाने से इनकार कर दिया. प्रेमिका ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि परिजनों ने उसकी जबरदस्ती शादी की है, वह बालिग है, अच्छा-बुरा सब जानती हैं. इसलिए वह प्रेमी के साथ जाएगी. यह कहकर युवती ने पिता के अरमानों पर पानी फेरते हुए शादी के अटूट बंधन को तोड़कर हवालात में बंद प्रेमी का हाथ थाम लिया.

इस पर थाने में दोनों पक्षों के बीच जमकर विवाद हुआ था. युवती के परिवार का कहना था कि वो ससुराल में रहे, वहीं ससुराल वाले उसको साथ ले जाने के लिए तैयार नहीं थे. इस बीच युवती ने अपने प्रेमी के साथ जाना बेहतर समझा। थाने में भी दोनों पक्षों को समझाकर युवती को प्रेमी के साथ उसके घर कानपुर भेज दिया गया है.

Tags: Hardoi News, UP police



Source link

more recommended stories