हौसले को सलाम: नोएडा में एसिड अटैक सर्वाइवर चला रही हैं शीरोज हैंगआउट कैफे

sheroes hangout


रिपोर्ट-आदित्य कुमार

नोएडा. रेस्टोरेंट तो आपने कई देखे होंगे, लेकिन राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi-NCR) से सटे नोएडा में एक कैफे ऐसा है जिसकी खासियत देखकर आपका भी मन कर जाएगा यहां पहुंच कर खाने का. इसे बेहद खास लोग चला रहे हैं जिन्हें कभी हमारा समाज देखना तक नहीं चाहता था. दरअसल नोएडा के सेक्टर 21ए स्थित नोएडा स्टेडियम में एसिड अटैक सर्वाइवर (Acid Attack Survivor) लड़कियां एक कैफे चलाती हैं. यह दिल्‍ली-एनसीआर में पहला ऐसा कैफे है जिसे एसिड अटैक सर्वाइवर चला रही हैं. इस कैफे का नाम शीरोज है. ये शब्द She,Heroes से मिलकर तैयार हुआ है.

यहां काम करने वाली नगमा बताती हैं कि मेरे ऊपर एक तरफा प्यार के कारण तेजाब डाला गया था. तेजाब डालने वाले ने ये सोचा होगा कि मैं कभी किसी को अपनी शक्ल दिखाने लायक नहीं रहूंगी, लेकिन आज मैं काफी अच्छा कर रही हूं. नगमा के मुताबिक, पहले अजीब लगता था कि मैं अपने जले चेहरे के साथ सबके सामने कैसे जाऊंगी, लेकिन अब ऐसा नहीं है. तो वहीं यहां काम करने वाली अंशु बताती हैं कि यह शीरोज हैंगआउट पहले आगरा और लखनऊ में था, उसी का यहां विस्तार किया गया है. जिसमें हम छांव फाउंडेशन के साथ जुड़कर काम करते हैं.

छांव फाउंडेशन ने दी छांव
छांव फाउंडेशन एसिड अटैक सर्वाइवर के सशक्तिकरण (Women empowerment) के लिए काम करता है. इसके डायरेक्टर आलोक दीक्षित बताते हैं कि मैंने एक दशक पहले एसिड अटैक के खिलाफ काम करना शुरू किया था, जिसमें हम उनके रिहैबिलिटेशन से लेकर उनके इलाज और इम्पावरमेंट के लिए काम करते हैं. ये कैफे उसी का एक हिस्सा है क्योंकि इन लड़कियों को कोई काम पर नहीं रखता था. हमने ये कैफे शुरू किया और आज ये सब एक साथ बेहद अच्छा काम कर रही हैं. आलोक बताते हैं कि कोई हमसे संपर्क करना चाहता है तो वो शेरोज हैंगआउट फेसबुक, ट्वीटर और इंस्टाग्राम पर हमसे जुड़ सकता है.

लोकेशन:- Sheroes Hangout Cafe

Tags: Delhi-NCR News, Noida Authority, Noida news



Source link

more recommended stories