हाथरस में कुत्तों का आतंक, 12 दिनों में 700 लोगों को बनाया अपना शिकार, जिला अस्पताल में जुटी भीड़


रिपोर्ट- सुमित शर्मा 

हाथरस. हाथरस जनपद में सड़क छाप कुत्तों का आतंक व्याप्त है. यह कुत्ते हर दिन लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं, जिसके चलते जिला अस्पताल में बड़ी संख्या में लोग एआरबी इंजेक्शन लगवाने किए लिए पहुंच रहे हैं. बता दें, जनपद हाथरस में आवारा कुत्तों का आतंक बढ़ता जा रहा है जिसकी वजह से जनपद में आवारा कुत्तों ने 700 से अधिक लोगों पर हमला कर उनको काटा है. वहीं जिला अस्पताल के आंकड़ों पर नजर डाले तो जिला अस्पताल के आंकड़ों के अनुसार पिछले 12 दिनों में 700 लोगों ने कुत्ते काटने का इंजेक्शन लगवाया है जबकि करीब 150 लोगों ने बंदर काटने का इंजेक्शन लगवाया.

जनपद हाथरस में बड़ी संख्या में आवारा कुत्ते सड़कों पर घूमते रहते हैं. ये कुत्ते आए दिन बच्चे बूढ़े व जवानों को अपना शिकार बनाते हैं. ये कुत्ते राह चलते लोगों पर हमला बोल देते हैं जब चाहे किसी को भी अपना शिकार बना लेते हैं. जनपद में आवारा कुत्तों की समस्या कितनी बड़ी है. इस बात का अंदाजा जिला अस्पताल में उपलब्ध आंकड़ों से लगाया जा सकता है.

नगर पालिका ने नहीं की कोई व्यवस्था 

वहीं बंदरों की बढ़ती जनसंख्या की वजह से शहर के लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है. इधर नगर पालिका ने आवारा कुत्तों को लेकर भी कोई व्यवस्था नहीं की है. वहीं बंदर काटने की वजह से अब तक जिला अस्पताल के आंकड़ों के अनुसार 150 लोगों ने बंदर के कटने पर इंजेक्शन लगवाया. इसके बावजूद इस समस्या की ओर किसी का कोई ध्यान नहीं है.

क्या कहते हैं अधिकारी 

इस बारे में उप जिलाधिकारी/अधिशासी अधिकारी हाथरस रमेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि आवारा कुत्तों के आम जन पर हमला करने की सूचना मिली है. इसे मुख्य जगहों को चिन्हित किया जा रहा है जहा आवारा कुत्तों के हमले हो रहे हैं. जल्द ही टीम बना कर आवारा कुत्तों को पकड़वा कर भेजा जाएगा. वहीं बंदरों को पकड़ने के लिए भी व्यवस्था की जा रही है,जिससे आम जन मानस को कोई समस्या नहीं होगी.

Tags: Hathras Case, UP news, Uttarpradesh news



Source link