Har Ghar Tiranga Abhiyan 2022: कहीं आपसे ना हो जाए तिरंगे का अपमान, जानिए झंडा फहराने से जुड़े नियम?


रिपोर्ट: आदित्य कुमार, नोएडा

नोएडा. आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर पूरा देश अमृत महोत्सव मना रहा है. महोत्सव का गौरव बढ़ाने के लिए, जन-जन की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील पर देशभर में हर घर तिरंगा अभियान चल रहा है. हर घर तिरंगा अभियान के तहत भारत के घर-घर में झंडा फहराया जा रहा है. अभियान की सफलता के लिए युद्धस्तर पर तैयारियां की गई हैं. जिसका परिणाम भी दिखाई दे रहा है. किसी ने मकान पर, किसी ने दुकान पर, तो किसी ने अपने वाहन पर ही तिरंगा लगा दिया है. लेकिन क्या आपको पता है कि झंडा फहराने के क्या हैं नियम?. सम्मान तिरंगा फाउंडेशन से जुड़े अतुल पांडेय से जानिए क्या है तिरंगे से जुड़े नियम.

प्रश्न. झंडे में तीन रंग और चक्र का अर्थ क्या है?
उत्तर. केसरिया शक्ति, साहस, त्याग का प्रतीक है. श्वेत शांति और सत्य का प्रतीक है. वहीं हरा रंग उर्वरता, समृद्धि, भूमि की हरियाली के साथ आशा और उमंग का प्रतीक है. जबकि बीच का चक्र देश के सतत प्रगति का प्रतीक है.

प्रश्न. झंडा फहराने का समय क्या होता है?
उत्तर. 20 जुलाई 2022 से सरकार ने देश की झंडा संहिता में बदलाव किया है. अब नियमानुसार तिरंगा दिन और रात दोनों समय फहराये जाने की अनुमति रहेगी. साथ ही अब पॉलिएस्टर और मशीन से बने राष्ट्रीय ध्वज का भी उपयोग किया जा सकता है. झंडा अगर 100 फिट की ऊंचाई से अधिक फगराया गया है, तो दिन रात फहरा सकते हैं. रात में झंडे पर अच्छी रौशनी होनी चाहिए.

प्रश्न. झंडा कहां फहराना चाहिए?
उत्तर. झंडा भारत का प्रत्येक नागरिक अपने घर, ऑफिस , दुकान, गोदाम इत्यादि में साल भर फहरा सकते हैं.

प्रश्न. क्या झंडा से बने कपड़े पहन सकते हैं?
उत्तर. जी हां, पहन सकते हैं. लेकिन कमर से उपर झंडा बना होना चाहिए. इसके अलावा झंडे पर कोई भी अन्य आकृति नहीं बना सकते.

प्रश्न. फटे झंडे को फहराना चाहिए?
उत्तर. नहीं, कोई भी व्यक्ति कटा या फटा झंडा नहीं फहरा सकता, झंडा साफ भी रहना चाहिए. राष्ट्र ध्वज को जमीन पर नहीं गिराना चाहिए और पानी में डुबोना भी नहीं चाहिए.

प्रश्न. फटे झंडे को क्या करना चाहिए?
उत्तर. झंडे को कभी कूड़े में नहीं डालना चाहिए. फटे झंडे को एकांत जगह पर नष्ट कर देना चाहिए. राष्ट्र ध्वज का किसी भी तरह से विज्ञापन या व्यवसायिक लाभ के लिए भी इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. यह दंडनीय अपराध है. झंडा फहराने के समय केसरिया रंग हमेशा ऊपर रहना चाहिए.

प्रश्न. झंडे का साइज क्या होना चाहिए?
उत्तर. झंडे का आकार आयताकार होना चाहिए, लंबाई से चौड़ाई का अनुपात 2:3 होना चाहिए.

Tags: Azadi Ka Amrit Mahotsav, Noida news, UP latest news



Source link

more recommended stories