ग्रेटर नोएडा में बिहार के दो हार्डकोर नक्सली गिरफ्तार, 10 महीने से थे फरार


नोएडा. गौतमबुद्ध नगर जिले के ग्रेटर नोएडा से बिहार पुलिस और विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने नक्सली एरिया कमांडर विडियो कोड़ा उर्फ कारेलाल कोड़ा (32) तथा उसकी सहयोगी पायल उर्फ पोली (22) को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, 19 सितंबर 2021 को बिहार के मुंगेर जिले में पुलिस पर गोलियां चलाने के मामले में वांछित कोड़ा को बिहार पुलिस व एसटीएफ तलाश रही थी और शनिवार रात को आरोपियों के ग्रेटर नोएडा में होने पर बिहार एसटीएफ के क्षेत्राधिकारी सुनील शर्मा पुलिस के साथ यहां पहुंचे.

उन्होंने बताया कि बिहार पुलिस ने नोएडा पुलिस की सहायता से बिसरख गांव के पीछे बनी बस्ती से कोड़ा व उसकी महिला साथी पायल को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने कोड़ा के जीजा धर्मेंद्र को भी हिरासत में लिया है. धर्मेंद्र पहले से ही यहां रह रहा था और उसने ही दोनों को कमरा दिलाया था. पुलिस के अनुसार दोनों नक्सली निर्माणाधीन परिसर में मजदूरी कर रहे थे.

बिहार से दस माह से फरार थे
पुलिस का दावा है कि दोनों नक्सली यहां दस दिन से रह रहे थे और वे बिहार से दस माह से फरार थे. कोड़ा की गिरफ्तारी पर बिहार पुलिस ने 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था. उसके खिलाफ बिहार के मुंगेर, जमुई और लखीसराय में 17 मामले दर्ज हैं. इनमें अधिकांश हत्या, पुलिस दल पर जानलेवा हमला और बलवे आदि के हैं.

स्थानीय अदालत में पेश किया गया था
वहीं, बीते दिनों खबर सामने आई थी कि जासूसी के आरोप में भारत-नेपाल सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) द्वारा पकड़े गए दो चीनी जासूसों को बिहार से गौतम बुद्ध नगर लेकर आए उत्तर प्रदेश विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने स्थानीय अदालत में पेश किया, जिसके बाद अदालत ने आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया. वहीं, चीनी नागरिकों को ग्रेटर नोएडा में शरण देने के आरोप में गिरफ्तार कारोबारी नटवरलाल से एसटीएफ ने लगातार आठ दिन पूछताछ की. नटवरलाल को गुरुवार की शाम स्थानीय अदालत में पेश किया गया था.

Tags: Arrest, Noida Crime News, Noida news, Noida Police



Source link

more recommended stories